Breaking Newsसंसार

Russia Ukraine War : यूक्रेन को और सैन्य मदत मुहैया कराएगा ब्रिटेन , ऑस्ट्रेलीया, नार्वे , लक्ज़मबर्ग और फिनलैंड भी भेजेंगे सैन्य सहायता।

पश्चिमी देशों की तरफ से यूक्रेन को सैन्य व अन्य सहायता भी उपलब्ध कराई जा रही है। ब्रिटेन और आस्ट्रेलिया ने आने वाले दिनों में यूक्रेन को और सैन्य और मानवीय मदद देने की भरोसा दिलाया है वहीं, यूरोपीय संघ (ईयू) युद्ध के चलते पलायन करने वाले यूक्रेनी नागरिकों को तीन साल तक रहने और काम करने का अधिकार देने पर विचार कर रहा है

सैन्य सहायता देने का दिया भरोसा

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट की प्रवक्ता ने कहा कि शनिवार को पीएम बोरिस जानसन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति बोलोदिमीर जेलेंस्की से बात की है और आने वाले दिनों में और सैन्य सहायता देने का भरोसा दिलाया। जेलेंस्की ने मौजूदा हालात की जानकारी दी। ब्रिटेन यूक्रेन को 5.3 करोड़ डालर (लगभग 40 हजार करोड़ रुपये) की मानवीय सहायता भी देगा.

यूक्रेनी लोगों को दी यह सहूलियत

प्रवक्ता ने बताया कि पीएम जानसन ने यह भी कहा है कि ब्रिटेन में रहने वाले यूक्रेनी अपने स्वजन को भी तत्काल अपने पास बुला सकते हैं। ईयू की गृह मामलों की आयुक्त यल्वा जोहानसन ने कहा कि पलायन करने वाले यूक्रेनी नागरिकों को संघ के 27 सदस्य देशों में तीन साल तक रहने और काम करने का अधिकार देने की योजना बनाई जा रही है.

लाखों लोगों का पलायन

युद्ध के चलते अब तक यूक्रेन से लगभग चार लाख लोग ईयू के कई देशों में आ चुके हैं। पोलैंड, रोमानिया, स्वोकिया और हंगरी के रास्ते लोग आ रहे हैं, जिनसे यूक्रेन की सीमा लगती है। उन्होंने कहा कि गुरुवार तक इस बारे में अंतिम फैसला ले लिए जाने की उम्मीद है.

यूक्रेन को घातक हथियार देगा आस्ट्रेलिया

आस्ट्रेलिया की सरकार ने सोमवार को कहा कि वह यूक्रेन को घातक हथियार मुहैया कराएगी। आस्ट्रेलिया इससे पहले यूक्रेन की मदद के लिए नाटो ट्रस्ट फंड में 30 लाख डालर (लगभग 2,200 करोड़ रुपये) योगदान कर चुका है.

यूक्रेनी नागरिकों को मदद पहली प्राथमिकता

यूक्रेन के नागरिकों को मदद मुहैया कराने के मसले पर विचार करने के लिए फ्रांस की राजधानी पेरिस में ईयू के ऊर्जा मंत्रियों की आपात बैठक भी हुई फ्रांस की मंत्री बारबरा पोम्पिली ने कहा कि यूक्रेन के लोगों की मदद उनकी पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि तेल और गैस की कमी से निपटने के लिए ईयू के पास पर्याप्त रिजर्व भंडार है.

नार्वे, लक्जमबर्ग और फिनलैंड भी भेजेंगे सैन्य सहायता

लक्जमबर्ग भी यूक्रेन को सैन्य मदद देगा। वह 100 टैंक रोधी हथियार, जीप और 15 टेंट भेजेगा। वह गठबंधन सेना के लिए अपनी सेना का मालवाहक विमान भी मुहैया करा रहा है फिनलैंड की प्रधानमंत्री सना मारिन ने अपनी देश की तय नीति से अलग जाते हुए यूक्रेन को सैन्य सहायता देने की घोषणा की है.

फिनलैंड और नार्वे भी देंगे मदद

फिनलैंड के रक्षा मंत्री ने बताया है कि यूक्रेन को 2,500 असाल्ट राइफलें, 1,50,000 गोलियां, 1,500 टैंक रोधी हथियार, 70,000 खाद्य पैकेट भेजे जाएंगे। नार्वे के पीएम जोनास गोहर स्टोरे ने भी कहा है कि 1950 से चली आ रही नीति के विपरीत उनका देश यूक्रेन को सैन्य मदद देगा। इसमें दो हजार टैंक रोधी हथियार भी शामिल हैं। नार्वे गैर नाटो देशों को सैन्य मदद नहीं देता है.

Related Articles

Back to top button