Breaking News पंजाब

जालंधर : थाना बस्ती बावा खेल अधीन आते शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में संदिग्ध हालात में एक महिला की तरफ से फंदा लगाकर जान दी गई

थाना बस्ती बावा खेल अधीन आते शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में संदिग्ध हालात में एक महिला की तरफ से फंदा लगाकर जान दी गई

जालंधर 8-4-2021

रिपोर्टर-दिपांशु नारंग

इंडिया नाउ 24, ब्यूरो चीफ जालंधर

थाना बस्ती बावा खेल अधीन आते शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में संदिग्ध हालात में एक महिला की तरफ से फंदा लगाकर जान दी गई। परिजनों का आरोप है कि महिला की तरफ से खुदकुशी ससुराल परिवार से तंग -परेशान होकर की गई। फ़िलहाल पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है।एस.एच.ओ. गगनदीप सिंह ने बताया कि मृतका की पहचान प्रवीण कुमारी के रूप में हुई है। देर शाम उन्हें सूचना मिली कि एक महिला की तरफ से खुदकुशी की गई। जब मौके पर पहुंचे तो पता लगा कि उसका परिवार लुधियाना में रहता है, जिसके बाद जब पुलिस ने महिला की मां को फ़ोन किया तो उसने बताया कि उसकी बेटी का विवाह 2 साल पहले हुआ था। मां ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी काफी देर से परेशान थी, इसी कारण उसने यह कदम उठाया।लुधियाना के छावनी मोहल्ले की रहने वाली 51 वर्षीय राजरानी ने बताया कि उनकी बेटी प्रवीण ने शाम साढ़े 4 बजे के करीब अंतिम काल की थी। उन्होंने बताया बेटी ने फ़ोन पर कहा,”ससुराल वाले उसकी मारपीट कर रहा है और हाथ बांध कर लटकाना चाहता है…यह मेरी अंतीम काल है.. मुझे बचा लो।”इसके बाद बेटी का फ़ोन बंद हो गया। इसके बाद उन्होंने नीलामहल में रहने वाली बड़ी बेटी आंचल को फ़ोन किया। वह प्रवीण के घर गई तो देखा कि उसकी लाश लटक रही थी। मां ने बेटी का कत्ल करने का आरोप लगाया है। मां ने बताया कि प्रवीण का विवाह 13 जुलाई 2018 को सागर के साथ हुआ था। उसका 13 महीनों का एक बेटा है। ससुराल वाले अक्सर उसे तंग परेशान करते रहते थे। उसने बताया कि पहले दोपहर 2 बजे के करीब बेटी ने फ़ोन करके कहा था कि सागर के फैमिली फ़्रैंड आशु का फिर से रिश्ता टूट गया है। सभी उसे यह ताने मार रहे थे कि उसके कारण रिश्ता टूटा है। सास, ननद, पति और आशु, के माता -पिता प्रवीण को गलत बोल रहे थे। राजरानी ने कहा कि उस समय प्रवीण को समझाया गया लेकिन बाद में शाम साढ़े चार के करीब उसकी अंतिम काल आया। दूसरी बेटी जब शहीद बाबू लाभ सिंह नगर पहुंची तो प्रवीण की सास मोहल्ले में खड़ी थी और भीड़ जमा हो चुकी थी। घर के बाकी मैंबर इधर -उधर हो चुके थे। एस.एच.ओ.राकेश कुमार ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।