Breaking News देश राज्य होम

उत्तराखंड जा रहे हैं तो करा लें कोरोना टेस्ट, कोविड-प्रमाण-पत्र के बिना नहीं मिल रहा प्रवेश

आइएसबीटी से हरिद्वार की बसें हुई प्रभावित। देहरादून जाने वाली बसों ने बदला रास्ता। रोडवेज बसों में बिना मास्क के यात्रा कर रहे हैं मुसाफिर। सैनिटाइजर और थर्मल स्क्रीनिंग की भी नहीं है बसों में कोई व्यवस्था। हरिद्धार में बिना कोविड-प्रमाण पत्र नहीं मिल रहा प्रवेश।

आगरा। कोरोना वायरस का संक्रमण फिर से विकराल रूप ले रहा है, लेकिन लोग सतर्कता नहीं बरत रहे हैं। रोडवेज बसों में यात्री बिना मास्क सफर कर रहे हैं, तो सैनिटाइजर, यात्रियों के तापमान जांच की भी कोई व्यवस्था नहीं है। वहीं, हरिद्वार में बिना कोविड प्रमाण-पत्र के बस चालक, यात्रियों के प्रवेश को प्रतिबंधित किया जा रहा है।

बस चालक उत्तराखंड बार्डर से आगरा के अधिकारियों को फोन कर इसकी सूचना दे रहे हैं। स्थानीय अधिकारी उन्हें कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पा रहे हैं। हरिद्वार जाने वाली बसें प्रभावित हैं, जबकि हरिद्वार होकर देहरादून जाने वाली बसों का रास्ता बदल दिया गया है। परिवहन निगम के अधिकारियों की ओर से पत्र जारी किया गया है कि उत्तराखंड के पुरकाजी बार्डर पर उप्र के वाहनों काे रोका जा रहा है। इसलिए यात्रियों को बैठाने से पहले उन्हें अवगत करा दें कि कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही वे बस में सवार हों। ऐसा नहीं होने पर उन्हें उत्तराखंड में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

ये जाती हैं बसें

हरिद्वार दो बसें सुबह आठ और नौ बजे आइएसबीटी से जाती हैं, जबकि एक बस रात को 10 बजे जाती है। शाम को दो पिंक बस एक सात बजे, दूसरी साढ़े आठ बजे देहरादून जाती है। ये दोनों बसें हरिद्वार होकर जाती हैं, लेकिन फिलहाल इनका रूट बदला गया है।

WhatsApp chat