Breaking Newsदेशराज्यहोम

गोरखपुर : RTO: पूरी तरह से ऑनलाइन हुई अस्थायी ड्राइविंग लाइसेंस व्यवस्था, स्लॉट की बाध्यता हुई खत्म

RTO: पूरी तरह से ऑनलाइन हुई अस्थायी ड्राइविंग लाइसेंस व्यवस्था, स्लॉट की बाध्यता हुई खत्म

इंडिया नाऊ 24 गोरखपुर
तपन बोस
गोरखपुर

अभ्यर्थी को नौ मिनट में नौ सही सवाल करने होते हैं। उत्तीर्ण होने के लिए अभ्यर्थी को एक आवेदन पर तीन बार टेस्ट का मौका मिलेगा। इसके बाद भी अभ्यर्थी पास नहीं हुआ तो दूसरा ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

अब अस्थायी ड्राइविंग लाइसेंस के लिए किसी भी अभ्यर्थी को चालक प्रशिक्षण केंद्र नहीं जाना पड़ेगा। अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन के साथ घर बैठे या साइबर कैफे में सारथी पोर्टल पर टेस्ट दे सकेंगे। परिवहन विभाग ने टेस्ट के स्लॉट की व्यवस्था को समाप्त कर दिया है।

नई व्यवस्था के तहत अब असीमित लोग लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। टेस्ट के स्लॉट के साथ आवेदन की सीमा भी खत्म हो गई है। अभ्यर्थी एक दिन में ही आवेदन के साथ टेस्ट देकर लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस हासिल कर सकते हैं। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) श्याम लाल ने बताया कि गोरखपुर में नई व्यवस्था लागू कर दी गई है। अभ्यर्थियों को सुविधा तो मिलेगी ही सिस्टम में भी पारदर्शिता आएगी। यहां जान लें कि टेस्ट में 15 वैकल्पिक सवाल पूछे जाते हैं।

अभ्यर्थी को नौ मिनट में नौ सही सवाल करने होते हैं। उत्तीर्ण होने के लिए अभ्यर्थी को एक आवेदन पर तीन बार टेस्ट का मौका मिलेगा। इसके बाद भी अभ्यर्थी पास नहीं हुआ तो दूसरा ऑनलाइन आवेदन करना होगा। दूसरे आवेदन पर भी अभ्यर्थी को तीन मौके मिलेंगे। टेस्ट के बाद अभ्यर्थी के पंजीकृत मोबाइल पर परिणाम पहुंच जाएगा।

Related Articles

Back to top button