Breaking News देश राज्य होम

बुलंदशहर में मिल्‍क पाउडर फैक्‍ट्री पर छापा मारने पहुंची एंटी करप्शन की फर्जी टीम, पांच सदस्य गिरफ्तार

अख्तियारपुर गांव में चल रही बालाजी मिल्क पाउडर पर छापा मारने पहुंची एंटी करप्शन की फर्जी टीम के पांच सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया जो दूध पाउडर की सैंपलिंग न करने की एवज में एक लाख रुपये की मांग कर रहे थे।

बुलंदशहर। अख्तियारपुर गांव में चल रही बालाजी मिल्क पाउडर पर छापा मारने पहुंची एंटी करप्शन की फर्जी टीम के पांच सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जो दूध पाउडर की सैंपलिंग न करने की एवज में एक लाख रुपये की मांग कर रहे थे। इसके बाद उन्‍हें जेल भेज दिया।

शनिवार दोपहर बालाजी मिल्क पाउडर एजेंसी पर गाड़ी सवार पांच लोग पहुंचे। स्वयं को एंटी करप्शन टीम का अधिकारी बताते हुए उन्होंने मिल्क पाउडर का सैंपल लेने का प्रयास किया। एजेंसी स्वामी अजय सोलंकी ने बताया कि मुंशी महेश कुमार ने जब यह कहते हुए विरोध किया कि यह काम तो फूड विभाग का है। इस पर वह जेल भिजवाने की धमकी देने लगे। आरोपितों ने जेल भेजने और सैंपल नहीं लेने के एवज में एक लाख रुपये की मांग की।

अजय सोलंकी ने बताया कि इसके बाद महेश ने उन्हें फोन कर बुलाया तो वह तुरंत एजेंसी पहुंचे। आरोपितों की गाड़ी पर उत्तर प्रदेश सरकार लिखा था, लेकिन उस पर नंबर हरियाणा का रजिस्टर्ड था। शक होने पर उन्होंने यूपी-112 को फोन किया तो पांचों आरोपित भागने लगे, लेकिन पुलिस ने तत्काल वहां पहुंचकर पांचों आरोपितों को पकड़ लिया। इंस्पेक्टर योगेंद्र मलिक ने बताया कि अजय सोलंकी ने तहरीर दी है। आरोपितों से पूछताछ की जा रही है।

गिरफ्तारी से पहले आरोपितों ने वसूले थे 10 हजार

पुलिस के मुताबिक पांच आरोपितों ने अख्तियारपुर गांव में छापा मारने से पहले भुन्ना जाटान गांव में धीरज कुमार के डेयरी प्लांट से छापे के नाम पर 10 हजार रुपये वसूले थे। इंस्पेक्टर योगेंद्र मलिक ने बताया कि धीरज कुमार ने भी इनके खिलाफ तहरीर दी। इनके कब्जे से 10 हजार रुपये भी मिले हैं। आरोपितों ने अपने नाम दिव्यांश निवासी खत्रीवाड़ा थाना सिकंदराबाद, लोकेश भाटी, राजेंद्र सिंह निवासीगण नूरपुर सिकंदराबाद, सोनू और गजेंद्र सिंह निवासीगण मेहपाजागीर थाना सिकंदराबाद बताए हैं। आरोपितों पर रिपोर्ट दर्ज की जा रही है।

WhatsApp chat