Breaking News देश राज्य होम

Coronavirus Vaccination: 45 वर्ष से कम उम्र वालों को वैक्सीन लगाने पर होगी कार्रवाई

45 वर्ष से कम उम्र के जिन लोगों को टीका लगाया गया पोर्टल से उनकी सूची तैयारी की जा रही है। उन्हें तथा उनको टीका लगाने वाले वैक्सीनेटर व अस्पतालों को कारण बताओ नोटिस भेजा जाएगा। संतोषजनक जवाब न देने पर कार्रवाई की जाएगी।

गोरखपुर। भारत सरकार का निर्देश है कि 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को ही कोरोना का टीका लगाया जाए। लेकिन 45 वर्ष से कम उम्र के सामान्य लोग भी स्वास्थ्य कर्मी या फ्रंटलाइन वर्कर बनकर टीका लगवा ले रहे हैं। यह सूचना मिलने के बाद स्वास्थ्य कर्मियों व फ्रंटलाइन वर्करों की पहली डोज बंद कर दी गई है। ताकि इसका कोई गलत फायदा न उठा पाए। इसके अलावा 45 वर्ष से कम उम्र के जिन लोगों को टीका लगाया गया, पोर्टल से उनकी सूची तैयारी की जा रही है। उन्हें तथा उनको टीका लगाने वाले वैक्सीनेटर व अस्पतालों को कारण बताओ नोटिस भेजा जाएगा। संतोषजनक जवाब न देने पर कार्रवाई की जाएगी।

पोर्टल पर अपलोड उम्र की हो रही जांच, बन रही सूची

सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय ने बताया कि यदि किसी भी निजी अस्पताल में ऐसा मामला सामने आता है तो उसे नोटिस भेजने के साथ ही वैक्सीन देना बंद कर दिया जाएगा। ऐसे अस्पतालों के खिलाफ एफआइआर भी कराई जा सकती है। भारत सरकार का सख्त निर्देश है कि 45 वर्ष के नीचे के लोगों को वैक्सीन न लगाई जाए, इसका उल्लंघन गंभीर अपराध है। ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

वैक्सीनेटरों को दिए गए निर्देश

सभी सरकारी व निजी अस्पतालों में बने बूथों पर तैनात वैक्सीनेटरों को निर्देश दिया गया है कि 45 वर्ष से कम उम्र वालों को टीका न लगाया जाए। उनका आधार कार्ड मांगा जाए, उसमें लिखित जन्मतिथि के अनुसार यदि उम्र 45 वर्ष या इससे ऊपर हो तो ही टीकाकरण किया जाए।

20 दिन बाद शुरू हो सकता है सभी के लिए टीकाकरण

45 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है। फीसद भी बढ़ रहा है। अधिकतम 20 दिन में इस उम्र वालों का टीकाकरण पूरा हो जाएगा। इसलिए घबराएं नहीं, इसके बाद 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाने का निर्देश जारी हो सकता है।  – डा. सुधाकर पांडेय, सीएमओ

WhatsApp chat