Breaking News बिज़नेस राज्य होम

निघासन – आपसी तालमेल की बह रही सुखद बयार जिससे स्थान-चखरा स्थित अस्थायी गौवंश आश्रय स्थल

निघासन के प्रशासनिक अमले में आपसी तालमेल की बह रही सुखद बयार जिससे स्थान-चखरा स्थित अस्थायी गौवंश आश्रय स्थल-

निघासन-खीरी।

इस तस्वीर को जरा ध्यान से देखिये।बाएं निघासन के तेजतर्रार एस.डी.एम. ओमप्रकाश गुप्ता, बीच में न्यायप्रिय सी.ओ.रवीन्द्र नायक और दायें नायब तहसीलदार लेकिन बात सिर्फ यही तक सीमित नहीं है।
सी ओ साहब का एक हाँथ एस डी एम साहब के कंधे पर है और एक हाँथ नायब तहसीलदार के कंधे पर।
अमूमन ऐसे दृश्य कम ही देखने को मिलते हैं।किसी तहसील के अधिकारियों के बीच इस तरह का तालमेल अपने आप में यहाँ की जनता के लिए एक सुखद सन्देश है।यहाँ के प्रशासनिक अमले के बीच आपसी तालमेल की बह रही यह सुखद बयार अपने आप में एक मिसाल है।साथ ही यहाँ के लोगों के लिए नयी उम्मीद भी।ऐसे तालमेल का सीधा फायदा वहाँ के फरियादियों को मिलता है।इस तालमेल से उन्हें जल्दी इंसाफ मिलता है।कहीं कोई रुकावट पैदा नहीं होती।ऐसी तस्वीरें एक नयी उम्मीदें जगाती हैं और बहुतों के लिए प्रेरणाश्रोत भी साबित होती हैं।
जसवन्त कुमार वर्मा,निघासन लखीमपुर खीरी, इडिया नाउ 24,