Breaking News देश राजनीती राज्य होम

विश्वकर्मा दिवस समस्त अभियन्ताओं के लिये अहम पर्व है : राव भोपाल सिंह

विश्वकर्मा दिवस समस्त अभियन्ताओं के लिये अहम पर्व है : राव भोपाल सिंह
विश्वकर्मा दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे श्री राव भोपाल सिंह 
– दीप  प्रज्वलित करके किया कार्यक्रम का शुभारंभ।
विश्वकर्मा पूजा सहित सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया।
-महिलाओं का भी सम्मान किया गया।
रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24
गुरुग्राम में पाटली पुत्र सांस्कृतिक चेतना मंच द्वारा हैप्पी मॉडल स्कूल समेत अन्य कई स्थानों पर विश्वकर्मा पूजा समारोह का आयोजन किया गया जिसमे अपनी पूरी टीम के साथ बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे राव भोपाल सिंह पूर्व अधीक्षक अभियन्ता नगर निगम गिरुग्राम जो वर्तमान समय में गुरुग्राम विधानसभा से प्रभावी उम्मीदवार भी हैं। कार्यक्रम में दीप प्रज्वलित करके किया शुभारंभ जिसमें 2000 से अधिक जन शामिल हुए। लोगों ने बड़े  ही आदर सत्कार के साथ फूल मालाए शॉल  व स्मृति चिह्न देकर किया स्वागत और कार्यक्रम में आयी हुई महिलाओं का भी सम्मान राव भोपाल सिंह के हाथों से करवाया गया। ये वह महिलाएं थीं जिन्होने अपने कीमती समय में से कुछ समय समाज के लिये निकाला और समाज को आगे बढाने में भी मदद कि।
बखान करते हुए कई वक्ताओं  ने राव भोपाल सिंह जी कि तारीफ किए जिस तरह से अपनी सरकारी नौकरी के दायरे में आने वाली सेवाओं का सही इस्तेमाल करते हुए उन्होने कैसे समाज के लिये कार्य किये। फिर चाहे वो पूर्वांचल समाज के लिये छठ पूजा के लिये घाट बनवाना हो या सर्व समाज को एकत्रित करने के लिये हालि में किये गये देश के पहले सबसे बड़े
हरियाणा.पूर्वांचल.उत्तरांचल मैत्री कार्यक्रम का आयोजन जिसमें राव भोपाल सिंह ने सर्व समाज तीनों राज्यों हरियाणा पूर्वांचल व उत्तरांचल सहित देश के सभी हिस्सों से आए लोगों को संस्कृति के माध्यम से इकट्ठा किया थाए जिसमें 25000 से ज़्यादा लोगों ने शिरकत कि थी व 400 से ज़्यादा कलाकारों को एक ही मंच पर देश के कोने . कोने कि संस्कृति का जादू बिखेरने का अवसर प्राप्त हुआ।
ये कार्यक्रम एक ऐसी पहल थी जिसमें जातिवाद व क्षेत्रवाद को खत्म करने कि मुहिम चलायी गयी
थी।
इस मौके पर राव भोपाल सिंह नें कहा कि विश्वकर्मा दिवस सभी अभियन्ताओं के लिये अहम दिवस है क्योंकि भगवान विश्वकर्मा भी एक तरहा से अभियन्ता ही थेए जिन्होने संसार को बसाने.बनामे में अपनी अलग भूमिका निभायी।
व साथ ही आयोजन कर्ताओं को बधाई दी कि वे सभी इतनी मेहनत से इस प्रकार के कार्यक्रम का निरंतर आयोजन करते रहते हैं।