Breaking News देश राजनीती राज्य होम

क्लीन, ग्रीन, फिट गुरुग्राम के साथ अब पानी की बचत पर फोकस

क्लीन, ग्रीन, फिट गुरुग्राम के साथ अब पानी की बचत पर फोकस
-बीजेपी जिला सचिव एवं समाजसेवी नवीन गोयल का नया प्लान
-गुरुग्राम के सभी घरों में वितरित करेंगे टंकी भरने पर बताने वाली अलार्म

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम,  क्लीन, ग्रीन और फिट गुरुग्राम अभियान के साथ अब समाजसेवी एवं बीजेपी जिला सचिव नवीन गोयल ने जल बचत को लेकर बेहतरीन अभियान शुरू किया है। उन्होंने घरों में व्यर्थ बहने वाले पानी की रोकथाम को अपने एजेंडे में लिया है। इसी के तहत वे गुरुग्राम के घरों में पानी की टंकी भरने पर सूचित करने वाली अलार्म आवंटित करेंगे। यह अभियान उनकी टीम की ओर से मंगलवार से शुरू कर दिया।
इसी अभियान के शुभारंभ को लेकर यहां पत्रकार वार्ता में समाजसेवी नवीन गोयल के भाई डीपी गोयल ने कहा कि क्लीन, ग्रीन और फिट गुरुग्राम अभियान के साथ अब पानी की बचत पर भी फोकस करते हुये यह कदम बढ़ाया है। देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल शक्ति अभियान चलाकर पानी की बचत का संदेश दिया। हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरु द्रोण की धरती गुरुग्राम से गुरूजल नामक प्रोजेक्ट शुरू करके जल की बचत का संदेश दिया है। इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर उन्होंने इस कार्य की शुरुआत करना बेहतर समझा। जैसे ही टंकी भरने को होगी, अलार्म से आवाज आयेगी-आपकी पानी की टंकी भरने वाली है, कृपया मोटर बंद कर दें। लोग पानी बचाने के प्रति जागरुक हों, उनकी टंकियों से पानी ओवरफ्लो होकर गलियों में न बहे, पानी की बचत करके देश, समाजहित में लोग भागीदार बनें, इस तरह का प्रयास उनकी ओर से किया जा रहा है।
हर घर जागरुक हो, तभी अभियान की सफलता
उन्होंने कहा कि सरकार ने गुरूजल प्रोजेक्ट चलाया है। इसकी सफलता तभी है, जब एक-एक घर में पानी की बचत के प्रति जागरुकता आये। इस अभियान को भी आमजन की भागीदारी से ही सिरे चढ़ाया जा सकता है। इसी के मद्देनजर अब गुरुग्राम के घरों में पानी ओवरफ्लो रोकने के लिए विशेष अलार्म घरों में बांटे जाने का कार्य शुरू किया गया है, ताकि शहर का हर नागरिक पानी के महत्व को समझते हुये इसकी बचत करने को गंभीर हो। इस मौके पर बीजेपी के जिला सचिव राजेश गुलिया ने इस अभियान को सराहा और कहा कि यह समाजसेवा के क्षेत्र में अनूठा उदाहरण है। सामान्य तौर पर किसी के जहन में इस तरह की बातें नहीं आती। लोगों में भी यह अभियान लोकप्रिय होगा। समाजसेवी चंद्रवीर गायत्री ने कहा कि उत्तराखंड की पहाडिय़ों में से एक-एक बूंद गिरकर नदियां भरती हैं। इसलिए हमें एक-एक बूंद बचानी होगी। गुरुग्राम कंक्रीट के जंगल में तब्दील हो गया है, इसलिये यहां पर पेड़ अधिक लगाने होंगे, ताकि हरियाणा के साथ जल और पर्यावरण को बचाया जा सके।
जहां जल होता है वहीं होता है जीवन: अभय जैन
सामाजिक कार्यकर्ता एवं मानव आवाज संस्था के संयोजक अभय जैन ने कहा कि धरती पर 70 प्रतिशत पानी है। इसमें से ज्यादातर पानी समुद्रों का है, जो कि पीने लायक नहीं है। ऐसे में हमें पानी की बचत पर व्यापक अभियान चलाकर जागरुकता लानी है। हम चंद्रमा पर जीवन ढूंढ रहे हैं। अगर वहां पानी मिला तो जीवन जरूर होगा। क्योंंकि जहां जल होता है, वहां जीवन होता है। हम बचपन से पढ़ते भी आ रहे हैं कि जल ही जीवन है। उन्होंने शहर के लोगों से अपील की कि इस मुहिम में साथ दें और रोजाना बूंद-बूंद पानी बचाकर लाखों लीटर पानी का संवर्धन करें।