Breaking News देश बिज़नेस राजनीती राज्य होम

जिला मऊ में सीएम योगी ने ढाई वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों को गिनाया

जिला मऊ में सीएम योगी ने ढाई वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों को गिनाया
सोमवार, सितंबर 16 2019
प्रभंजन कुमार तिवारी, प्रधान संपादक
विधानसभा उप चुनाव से पहले सोमवार को सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को जिले को करोड़ों की सौगात दी। मुख्यमंत्री ने मऊ जनपद को करोड़ो की सौगात देने के साथ ही हर वर्ग को साथ रखने का प्रयास किया। उन्होंने अपने ढाई वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों को गिनाया तो कानून व्यवस्था बेहतर होने का दावा भी किया।कार्यक्रम में मुख्‍यम्ंत्री करीब 43 मिनट देर से पहुंचे। सभा में उन्होंने अवैध स्लॉटर हाउस बंद होने से किसानों के खेतों में मवेशियों द्वारा किए जा रहे नुकसान से बचाव का उपाय भी बताया। इसी बहाने उन्होंने गोपालन एवं 4 गोवंश पालन पर प्रत्येक पशुपालक एवं किसान को शासकीय स्तर से प्रतिमाह 900 रुपये दिए जाने की जानकारी देकर पशुपालन के प्रति प्रोत्साहित भी किया। राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मुद्दों को भी उठाया तो हाल ही में जम्मू एवं कश्मीर से आर्टिकल 35 ए एवं धारा 370 के समाप्त होने को आतंकवाद के ताबूत की अंतिम कील बताया। उन्होंने अपने ढाई वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों को गिनाया तो कानून व्यवस्था बेहतर होने का दावा भी किया। पर्यावरण के प्रति गंभीरता जताते हुए उन्होंने प्लास्टिक मुक्त भारत ही नहीं वरन प्लास्टिक का संकल्प भी लिया। घोसी विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे फागू चौहान को बिहार का राज्यपाल बनाए जाने को उन्होंने पिछड़ा वर्ग का सम्मान बताया। कहा कि भारतीय जनता पार्टी ही एक ऐसी पार्टी है जो नारी सशक्तिकरण, नारी गरिमा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की हिमायत नहीं करती है वरन तीन तलाक जैसी कुप्रथा का अंत भी किया। एक भारत श्रेष्ठ भारत ही भाजपा सरकार का एकमात्र नारा है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 विभागों से संबंधित 51 करोड़ दो लाख 92 हजार की लागत से 74 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने सात विभागों से जुड़ी 1 अरब 14 करोड़ 24 लाख 41 हजार की लागत से 21 परियोजनाओं का लोकार्पण किया। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना नगरीय के तहत 11, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के पांच एवं मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत चार लाभार्थियों सहित कुल 20 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान किया ।लोक निर्माण विभाग के 1015 लाख की लागत से अलीनगर इंदारा मझवारा मधुबन मार्ग का सुदृढीकरण, लोनिवि के 1129 लाख की लागत से रौनापार-अमिला मार्ग का चौड़ीकरण कार्य, नवनिर्मित 33/11 के.वी उपकेन्द्र अमिला लागत 230.00 लाख ,घोसी-मझवारा मार्ग का चौड़ीकरण, पीएमजीएसवाई लोक निर्माण विभाग की 179.83 लाख की लागत से एनएच 29 से सियरही बर्जला तक सड़क निर्माण, 238.60 लाख की लागत से हड़हुआ से अमिला वाया पिड़उथसिंहपुर सहित 11424.41 लाख की लागत से सात विभागों के 21 परियोजनाओं का लोकार्पण। जलशक्ति विभाग के 35.43 लाख की लागत से डॉ राममनोहर लोहिया 2000 नवीन निर्माण परियोजना, जल निगम की 156.33 लाख की लागत से बसारथपुर ग्राम पेयजल योजना, 188.57 लाख की लागत से चकबरबोझी ग्राम पेयजल योजना, 747.40 लाख की लागत से विधानसभा मधुबन में राजकीय महाविद्यालय का निर्माण कार्य सहित 5102.92 लाख लागत की 15 विभागों की 74 परियोजनाओं का शिलान्यास।