Breaking News खेल देश बिज़नेस राजनीती राज्य होम

आगरा मे 12 दिन बाद गायब बालक का मिला शव

आगरा मे 12 दिन बाद गायब बालक का मिला शव

पुनीत राय -क्राइम रिपोर्टर लखनऊ

सैंंया के राजपुरा से एक सितंबर को गायब हुए बालक धनराज का शव खेत में पड़ा मिला। छात्र धनराज को उसके घर में काम करने वाला नौकर अनिल पुत्र अचल निवासी बृथला थाना इरादतनगर बहलाफुसला कर ले गया था। बाद में खेत में ले जाकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने नौकर को गिरफ्तार कर लिया है। बालक धनराज का शव गांव के किसान राजवीर के खेत से बरामद किया है। नौकर के खिलाफ अपहरण हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।मामला 1 सितंबर का है। धनराज पुत्र लोकेंद्र सिंह निवासी राजपुरा कक्षा 3 का छात्र था। उसके घर में अनिल नाम का युवक जो बृथला का रहने वाला था काम करता था। उसके पिता लोकेंद्र ने उसे अपनी भैसों को चारा डालने के लिए रखा हुआ था। बताया जाता है नौकर अनिल नया कीपेड वाला मोबाइल लेकर आया था। उसने खुद की कमाई से खरीदा था। मोबाइल को धनराज ने गुस्से में आकर तोड़ दिया था। इससे नौकर उससे नाराज हो गया था और उससे जलन मानने लगा। उसने धनराज के पिता से घर जाने को पैसे मांगे तो वहां से जाने को पैसे नहीं मिले। बाद में लोकेन्द्र की पत्नी से चालीस रुपये मिल गये थे। उसी समय धनराज इरादतनगर से पढ़कर घर पहुंचा तो बातों में लगाकर साथ में ले गया ।पुलिस के अनुसार गुस्से में आए अनिल ने छात्र धनराज को उसी दिन दोपहर के बाद ले जाकर खेत में मार दिया था और गांव के ग्रामीण राजवीर के बाजरा के खेत में उसके शव को फेंक कर चला गया था। वह श्रमिक बनकर शमसाबाद क्षेत्र में अपने दिन गुजार रहा था। पुलिस को उसकी तलाश थी। पहले दिन से पुलिस को उसी पर शक था। वही बालक को लेकर गया है किसी ने उसके साथ बालक को जाते हुए भी देखा भी था। पुलिस ने बताया कि गुरुवार रात शमसाबाद इलाके से अनिल काे गिरफ्तार कर लिया गया उससे कड़ाई से पूछताछ की गई है। प्रभारी निरीक्षक सैंंया बैजनाथ सिंह ने बताया अनिल के खिलाफ अपहरण हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा जा रहा है। उसने मोबाइल तोड़ने के गुस्से खफा होकर उसकी हत्या करी है। पुलिस उसे काफी दिनों से तलाश कर रही थी पर मिल नहीं पा रहा था। एसपी पश्चिम रवि कुमार, सीओ खेरागढ प्रदीप कुमार आरोपित से पूछताछ कर रहे हैं।