देश राज्य होम

जनआन्दोलन के रूप में ले पोषण अभियान-वर्मा।

हरियाणा रोहतक ब्यूरो चीफ संजय पैन5

-कहा, कुपोषण को समाप्त करने का माध्यम है यह अभियान।

-जागरूकता रथ यात्रा को किया रवाना।

रोहतक, उपायुक्त आर एस वर्मा ने कहा है कि पोषण अभियान को एक जन आंदोलन के रूप में चलाने की जरूरत है। श्री वर्मा आज जिला विकास भवन में पोषण माह की रथ यात्रा को हरी झंडी दिखाने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वास्तव में पोषण अभियान ही कुपोषण को समाप्त करने का सशक्त माध्यम बन सकता है।

श्री वर्मा ने बताया कि इस अभियान के तहत महिलाओं व बच्चों को पोषित करने की महत्वपूर्ण जानकारियां उपलब्ध करानी होगी। अभियान के तहत स्तनपान के महत्व, संस्थागत प्रसव बच्चों के जन्म से पूर्व देखभाल, एनीमिया तथा बच्चें की वृद्धि की निगरानी के बारे में जानकारी देनी होगी। उन्होंने कहा कि जागरूकता के माध्यम से इस अभियान को सफल बनाया जा सकता है। हरेक व्यक्ति का दायित्व बनता है कि वह अपने स्तर पर किसी न किसी माध्यम से पोषण को लेकर जागरूकता फैलाने का काम करें। महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती बिमलेश कुमारी ने अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी दी और बताया कि रथ के माध्यम से ग्रामीण व शहरी दोनों क्षेत्रों में पोषण को लेकर जागरूकता फैलाई जाएगी। उन्होंने बताय कि यह रथयात्रा 5 दिन तक जिला के सभी ब्लॉकों में जाएगा।

इस अवसर पर एसडीएम रोहतक राकेश कुमार, महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी रोहतक श्रीमती कृष्णा भारद्वाज, महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी रोहतक ग्रामीण श्रीमती शांति जून, डॉ संजीव मलिक, डॉ सुनीता धनिया, महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती मंजू राणा, श्रीमती वैशाली, श्रीमती डिंपल व श्रीमती सुमन आदि मौजूद थे।

पोषण को लेकर प्रदर्शनी आयोजित।

पोषण विषय पर प्रदर्शनी का आयोजन भी किया गया। इस प्रदर्शनी में पोषण अभियान की जिला समन्वयक श्रीमती निहारिका ने फोटो व वीडियो के माध्यम से पोषण के बारे में समझाया। कार्यक्रम में रेसिपी प्रतियोगिता भी करवाई गई, जिसमें कम कीमत की पौष्टिक रेसिपी बनाई गई। अन्न प्राशन व गोद भराई का कार्यक्रम भी किया गया। स्कूली छात्राओं द्वारा कलश यात्रा के माध्यम से पोषण के बारे में जागरूकता फैलाई गई।