Breaking News देश राजनीती राज्य होम

रोहतक(हरियाणा) – ओबीसी की समीक्षा बैठक का आयोजन।

ओबीसी की समीक्षा बैठक का आयोजन।

रोहतक(हरियाणा)ब्यूरो संजय पांचाल

रोहतक,भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के आदेशों पर बैंकों की विभिन्न शाखाओं के कार्यनिष्पादन और राष्ट्रीय प्राथमिकताओं के साथ उनकी अनुकूलता की समीक्षा करने के लिए आज से ओरियन्टल बैंक ऑफ कॉमर्स द्वारा दो दिवसीय समीक्षा बैठक का आयोजन स्थानीय दिल्ली बाईपास स्थित होटल संगरीला में किया गया। जिसमें मंडल के अधिकार क्षेत्र में आने वाली सभी शाखाएं शामिल हुई। यह अपनी तरह की ऐसी पहली मंत्रणा बैठक थी जहां शाखाओं को स्वयं अपने प्रदर्शन की समीक्षा करने, बैंकिंग क्षेत्र के समक्ष इस मुद्दे पर विचार-विमर्श करने तथा भावी रणनीति और आगे बढऩे के तरीकों के बारे में विचार-विमर्श किया गया। यह बैठक अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में ऋण वृद्धि के तरीकों और साधनों, नवोन्मेष लाने और विशाल डेटा के विश£ेषण को सक्षम बनाने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग बढ़ाने और बैंकिंग को नागरिक केंद्रित बनाने के साथ-साथ वरिष्ठ नागरिकों, किसानों, छोटे उद्योगपतियों, उद्यमियों, युवाओं, छात्रों और महिलाओं की जरूरतों और आकांक्षाओं के प्रति अधिक उत्तरदायी बनाने पर केन्द्रित थी।

बैठक में नंदन नीलेकणी द्वारा डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने, उदय कोटक द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में कार्पोरेट गवर्नेंस, यू.के. सिन्हा द्वारा भारत के एमएसएमई को ऋण देने, के. सुब्रमण्यम द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में प्रौद्योगिक के उपयोग, आदित्यपुरी द्वारा रिटेल ऋण, प्रो. रमेश चंद और डॉ. एच.के. भानवाला द्वारा कृषि ऋण, डेविड रसक्वेन्हा द्वारा भारत में निर्याण ऋण, डॉ. चरण सिंह द्वारा वित्तीय ग्रिड बनाने की आवश्यकता पर अपने विचार प्रकट किये गये। वहीं बैठक में आर्थिक प्रगति के लिए ऋण सहायता, बुनियादी ढांचा, कृषि क्षेत्र व ब्लू अर्थव्यवस्था, जल शक्ति, एमएसएमई क्षेत्र व मुद्रा ऋण, शिक्षा ऋण, निर्यात ऋण, हरित अर्थव्यवस्था, स्वच्छ भारत, वित्तीय समावेशन व महिला सशक्तिकरण, प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, कम नकदी, डिजिटल अर्थव्यवस्था, सुगम जीवन, स्थानीय प्राथमिकताओं के साथ अनुकूलता और कॉरपोरेट सामाजिक दायित्व बारे भी विचार-विमर्श किया गया।