Breaking News देश राज्य होम

टावा लायन सफारी की तर्ज पर विकसित होगी गुरुग्राम में लेपर्ड व डियर सफारी

टावा लायन सफारी की तर्ज पर विकसित होगी गुरुग्राम में लेपर्ड व डियर सफारी
– वन मंत्री राव नरबीर सिंह ने लेपर्ड एवं डियर सफारी बनाने के लिए आज किया इटावा लायन सफारी का दौरा
– राव नरबीर सिंह ने वन्य प्राणी तथा वन विभाग के अधिकारियों को दिए लेपर्ड तथा डियर सफारी की प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने के निर्देश।

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम । गुरुग्राम जिला में  इटावा लायन सफारी की तर्ज पर  लेपर्ड एवं डियर सफारी विकसित की जाएगी । इस प्रोजेक्ट को लेकर  आज हरियाणा के लोक निर्माण एवं वन मंत्री राव नरबीर सिंह ने उत्तर प्रदेश में इटावा लायन सफारी  का दौरा किया  और वहां की व्यवस्था को देखा । लायन सफारी को देखकर कैबिनेट मंत्री  राव नरबीर सिंह  इतने प्रभावित हुए  कि उन्होंने साथ  चल रहे  अधिकारियों को  गुरुग्राम में  अरावली पर्वत श्रंखला में इटावा की लायन सफारी  की तर्ज पर लेपर्ड एवं डियर सफारी विकसित करने की प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए । गुरुग्राम जिला में यह प्रस्तावित  लेपर्ड एवं डियर सफारी  सेक्टर 76 के पास  गांव  सकतपुर  और गैरतपुर बास के आसपास के क्षेत्र में  विकसित किए जा रहे  सिटी फॉरेस्ट क्षेत्र में  बनेगी । राव नरबीर सिंह ने कहा कि आने वाले समय में सिटी फॉरेस्ट  व लेपर्ड सफारी नेचर लवर्स की पहली पसंद बनकर उभरेगा और यह जगह पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र होगी। उन्होंने कहा कि लेपर्ड सफारी की साइट दिल्ली एयरपोर्ट से मात्र 25 मिनट की दूरी पर होगी।
गौरतलब है कि वन मंत्री द्वारा गत 9 अगस्त को जिला के गांव सकतपुर में सिटी फॉरेस्ट विकसित करने के कार्य का पौधारोपण कर शुभारंभ किया गया था। इस दौरान सीएसआर के तहत पौधारोपण कार्यक्रम चलाने वाली विभिन्न कंपनियां भी उपस्थित थी। वन मंत्री के अनुसार सिटी फोरेस्ट में पौधारोपण करने सहित विभिन्न प्रकार की  गतिविधियां, जिनसे प्रकृति को नुकसान ना हो, चलाई जाएंगी ताकि लोग यहां भ्रमण के लिए आए और प्राकृतिक वातावरण का लाभ उठा सकें। कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह का कहना है कि यह सिटी फॉरेस्ट  तथा  लेपर्ड एवं डियर सफारी  भविष्य में  पर्यावरणविद  तथा  पर्यटकों के लिए  आकर्षण का केंद्र बनेगी  और वे यहां आकर  प्राकृतिक  वातावरण का आनंद उठा सकेंगे । यह क्षेत्र पूरे गुरुग्राम जिला के लिए ‘ग्रीन लन्स’ का काम करेगा। कपनियों को सिटी फोरेस्ट में स्थान आंबटित किए जाएंगे जहां पर वे पौधारोपण के साथ साथ पर्यावरण संरक्षण से संबंधित अन्य गतिविधियां भी चला सकती हैं।
       इस अवसर पर  कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह के साथ प्रधान मुख्य  वन संरक्षक (वण्य प्राणी) वी एस तंवर,   अतिरिक्त मुख्य  वन संरक्षक  आलोक वर्मा, वन मंडल अधिकारी सुभाष यादव भी उपस्थित थे ।