Breaking News देश राज्य होम

सोहना तावडू को मेट्रो सिटी बनाने का सपना करूंगा पूरा: वशिष्ट कुमार गोयल

सोहना तावडू को मेट्रो सिटी बनाने का सपना करूंगा पूरा: वशिष्ट कुमार गोयल
सोहना तावडू की होती वकालत तो अब तक पहुंच गई होती मेट्रो
क्षेत्र की सही वकालत  ना होने से दिल्ली एनसीआर में होने के बावजूद भी क्षेत्र को नहीं मिला लाभ
रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24
दिल्ली एनसीआर में सोहना तावडू विधानसभा क्षेत्र होने के बाद भी इस क्षेत्र को वह लाभ नहीं मिला जो वर्षों पहले ही मिल जाना चाहिए था। उक्त बातें नव जन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ठ कुमार गोयल ने सोहना तावडू विधानसभा क्षेत्र के दौरे के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए कही। नव जन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ठ कुमार गोयल ने कहा कि इस विधानसभा क्षेत्र की सही ढंग से वकालत नहीं की गई। अगर की गई होती तो आज हमारा क्षेत्र सोहना मेट्रो सिटी बन गया होता।श्री गोयल ने सवाल किया कि दिल्ली एनसीआर में सोहना क्षेत्र होने के बावजूद भी यहां पर मेट्रो की डीपीआर क्यों नहीं तैयार की गई। यहां के अधिकारियों ने मेट्रो से जोड़ने के लिए सोहना तावडू का नाम क्यों नहीं लिया।यह समझना होगा वशिष्ठ कुमार गोयल ने कहा कि मेट्रो आने से क्षेत्र का दिन दूना रात चौगुना विकास होगा।हम क्षेत्र के इस सपने को पूरा करने के लिए दिन रात एक कर देंगे। हम इस सपने को आप लोगों के सहयोग से पूरा करके ही दम लेंगे। वशिष्ठ कुमार गोयल ने कहा कि सोहना तावडू दिल्ली एनसीआर में है इसलिए प्रदेश सरकार को वह सभी सुविधाएं क्षेत्र के लोगों को देनी होगी जो कि एनसीआर के अंदर गुड़गांव और फरीदाबाद के शहरी लोगों को मिल रही हैं। यही नहीं अगर इस क्षेत्र की वकालत ठीक से होती तो आज यहां मेडिकल कॉलेज से लेकर अन्य यूनिवर्सिटी सोहना विधानसभा में होती।क्योंकि हमारे विधानसभा में सबसे अधिक जरूरतें थी।साथ ही विधानसभा में सरकारी जमीन अभी सबसे अधिक उपलब्ध थी। लेकिन क्षेत्र की वकालत समय पर नहीं हुआ। इसलिए इस तरफ ना तो किसी अधिकारी ने ध्यान दिया ना उच्च पदों पर बैठे नेताओं ने, क्षेत्र का सही विकास तभी संभव है जब क्षेत्र की वकालत करने वाला कोई व्यक्ति क्षेत्र के सही विकास के बारे में सोचता हो। आप लोगों के बीच रहता हो। आप लोगों के दुख दर्द को समझता हो। इस मौके पर नव जन चेतना मंच के दर्जनों कार्यकर्ता श्री वशिष्ठ कुमार गोयल के साथ मौजूद रहे।