Breaking News देश राजनीती राज्य होम

रोहतक – सबके भले, सबकी सद्बुद्धि के लिए था तप–जयहिन्द

सबके भले, सबकी सद्बुद्धि के लिए था तप–जयहिन्द।

बच्चियों के बलात्कारियों को छह महीने में फांसी हो – जयहिन्द।

रोहतक। मंगलवार को रोहतक में आम आदमी पार्टी प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिन्द ने भगवान के आशीर्वाद के साथ अपने तप व मौन व्रत का समापन किया। पत्रकारों से बातचीत में नवीन जयहिन्द ने बताया कि यह तप जनता की भलाई व सद्बुद्धि के लिए था। दो दिन सौर ऊर्जा व मौन की उर्जा ग्रहण की है। जिससे एक सकारात्मक उर्जा मस्तिष्क में उत्पन्न हुई है। एक आम आदमी होने के नाते खुद के गुण-अवगुणों पर आत्म-मंथन करने का शुभ अवसर मिला है।

जयहिन्द ने कहा कि अगर कोई इसे ड्रामा कहे तो उन्हें कोई फर्क नही पड़ता। वे आत्म चिन्तन के लिए तप पर बैठे थे। शरीर को कष्ट देकर उनके मन व शरीर का संतुलन बराबर हो गया है। सभी को आत्म चिंतन करने की जरूरत है। न तो वो नेता के “न” है और न ही संत के “स” है।

उनका कहना था कि।धरती पर गर्मी सूर्य के तपने की वजह से नही बल्कि इन्सान से इन्सान की जलन की वजह से बढ़ रही है। समाज में नकारात्मक उर्जा बढ़ रही है। इस नकारात्मक उर्जा को खत्म करने की जरूरत है। इस समाज में देवता भी है और राक्षस भी है और जो राक्षस है उन्हें उनके कर्मों की सजा भी मिलनी चाहिए् हर आदमी आज आत्म-मंथन करने की जरूरत है। जब हम खुद को ठीक करलेंगे तो समाज में बहुत सकारात्मक बदलाव होगा।

वही प्रदेशाध्यक्ष ने छोटी-छोटी बच्चियों के साथ हो रहे बलात्कार जैसी अमानवीय घटनाओं पर रोष व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार सुनिश्चित करें कि ऐसे केस फ़ास्टट्रैक कोर्ट में चले और छह महीने में बलात्कारियों को फांसी की सजा मिले हर राज्य में फ़ास्टट्रैक कोर्ट बनाई जाए। जब कानून है तो कानून का इस्तेमाल किया जाए। निर्भया केस में आज तक रेपिस्टों को फांसी सजा नही मिली है। मां–बहन-बेटी सबके घरों में है और आज सब डर रहे है , उनकी सुरक्षा को लेकर छोटी–छोटी बच्चियां न जींस पहनती है न ही घर से बाहर कही जाती है, फिर भी उनके साथ जब इस तरह की घिनौनी हरकत करता है तो उसे 6 महीने में फांसी की सजा हो।

रोहतक(हरियाणा)से ब्यूरो संजय पांचाल की रिपोर्ट