Breaking News देश राज्य होम

मुख्यमंत्री उड़नदस्ता की शिकायत पर तीन प्राॅपर्टी डिलरों तहसीलदार, नायब तहसीलदार और नगरपरिषद के दो अधिकारियों से अवैध काॅलोनी काटने का मामला दर्ज

मुख्यमंत्री उड़नदस्ता की शिकायत पर तीन प्राॅपर्टी डिलरों तहसीलदार, नायब तहसीलदार और नगरपरिषद के दो अधिकारियों से अवैध काॅलोनी काटने का मामला दर्ज

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

सोहना। सोहना सिटी थाना पुलिस ने मुख्यमंत्री उड़नदस्ता की शिकायत पर तीन प्राॅपर्टी डिलरों सहित तहसीलदार, नायब तहसीलदार और नगरपरिषद के दो अधिकारियों की मिली भगत से अवैध काॅलोनी काटने का मामला दर्ज किया गया है। इतना ही नहीं अवैध काॅलोनी में तोड़फोड़ के दौरान 2006 से 2012 के बीच में डीटीपी विभाग द्वारा भी कोई कार्रवाई करने का आरोप लगाया गया है।
सोहना सिटी थाना पुलिस ने पुलिस अधीक्षक मुख्यमंत्री उड़नदस्ता हरियाणा पंचकूला के पत्र क्रमांक 418/एफएसओ/जीजीएम दिनांक 30.06.2016 के आधार पर सोहना की डिफेंस काॅलोनी में अवेेैध काॅलोनी काटने का मामला दर्ज किया गया है। जो तत्कालिन वार्ड नंबर 4 में आता है। उक्त मामले की जांच कर रहे उपनिरीक्षक जोगिंदर ंिसह मुख्यमंत्री उड़नदस्ता गुरूग्राम द्वारा अमल में लाई गई है। जांच के दौरान पाया गया कि खसरा नंबर 228 किला नंबर 10,11,12/1020 मौजा वाका वार्ड नंबर 4सोहना की जमीन बिना एनओसी व बिना पालिका विकास शुल्क जमा कराएं तत्कालिन तहसीलदारों की मिलीभगत से शिकायत पंजीकृत करवाकर बेच दी। अवैध काॅलोनी काटने से सोहना की तत्कालिन नगरपालिका को 3 लाख 81 हजार 660 रुपये का विकास शुल्क जमा नहीं कराया गया। विक्रेताओं सुभाष निवासी भोंडसी, बिल्ला राम निवासी भोंडसी व संदीप निवासी बादशाहपुर टैठड़ के विरूद्व अवैध काॅलोनी काटने और नगरपालिका अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही करने के उपायुक्त गुरूग्राम व सचिव नगरपरिषद सोहना को लिखे जाने का सुझाव दिया जाता है। जांच अधिकारी ने शिकायत में बताया कि मामले की जांच के दौरान पाया गया कि नगरपालिका के तत्कालिन जेई एमई सतपाल सिंह नगर परिषद सोहना ने अपने कथनों में अंकित कराया कि नगर परिषद के पास पटवारी न होने के कारण खसरा नंबर 228 किला नंबर 12/1 की निशानदेही नहीं की जा सकी। जिसके कारण काॅलोनी के अवैध भाग में सड़क का निर्माण करा दिया। जांच से पालिका अधिकारियों की बदनियति नहीं पाई गई। लेकिन मामले में जेई और एमएमई सतपाल सिंह सहित तत्तकालिन तहसीलदार और नायब तहसीलदार सहित अन्य अधिकारियों की बरती गई लापरवाही से उक्त अवेैध काॅलोनी काटी गई है। सोहना सिटी पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद जांच शुरू कर दी है।