Breaking News देश राजनीती राज्य होम

इंडो नेपाल बार्डर पर ब्राउन शुगर की तस्करी बढी फिर नेपाल वार्डर पर पकडी गयी ब्राउन शुगर

इंडो नेपाल बार्डर

इंडो नेपाल बार्डर पर ब्राउन शुगर की तस्करी बढी फिर नेपाल वार्डर पर पकडी गयी ब्राउन शुगर

इंडो नेपाल बार्डर से सटे गौरी फंटा छेत्र मे सीमा पिलर संख्या 752 के नजदीक सशष्त्र सीमा वल की 39वी वाहिनी के जवानो ने मुखबिर की पूर्व सूचना पर ब्राउन सुगर के साथ एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया पकडा गया युवक नेपाल के औद्धोगिक शहर धनगढी ले जाकर ब्राउन शुगर की सप्लाई करता था ।पूछ ताछ में अभियुक्त ने अपना नाम मो0 मोबीन निवासी धनगड़ी नेपाल बताया बताते चले जनपद लखीमपुर खीरी की सीमावर्ती कस्बा तिकोनियां मे भी आजकल नशे का काला कारोबार धडल्ले से चल रहा है । लगभग दो माह पूर्व तिकोनियां के अंतर्राष्ट्रीय बार्डर के समीप मुखविर की पूर्व सूचना के आधार पर सुरक्छा वलो ने वाइक से नेपाल जा रहे एक नेपाली नशे के तस्कर को पकडा था वह तस्कर अपनी मोटर सायकल के पिछले पहिये मे ब्रेक के पास वाइक के फ्रेम मे वने एक गुप्त स्थान पर छिपा कर लगभग आठ ग्राम स्मैक ले जा रहा था जिसे खुलवा कर स्मैक वरामद की गयी थी। उक्त पकडे गये तस्कर ने वरामद स्मैक तिकोनियां कस्बे के किसी छोटू मोटर सायकल मैकेनिक से खरीदे जाना स्वीकार किया था पर बाद मे यह कह कर कि आठ ग्राम स्मैक पर केस ही नहीं वनता युवक को छोड दिया गया था सूत्रों की माने तो अकेले तिकुनियां कस्बे मे ही प्रतिदिन लाखो रुपये की स्मैक व अन्य नशीली दवाईयां प्रतिवंधित इंजेक्शन आदि धडल्ले से खुलेआम नेपाली नशेडियों को बिक्री किया जाता है पर जिम्मेदार हमेशा की तरह मौन ही रहते है। नशे के तस्कर छोटी छोटी मात्रा मे इसकी सप्लाई करते हुये कानून के हाथो से भी बचे रहते है। पकडे जाने वाली स्मैक की मात्रा आठ ग्राम या कम रहने पर केस दर्ज करने योग्य नही होना बता कर तस्कर ,नशेडी ,या कैरियर को छोड दिया जाता है। मोटरसाईकिल मे स्मैक वरामदगी का किसी ने वीडियो भी वनाया था जो कि काफी दिन वायरल भी हुआ था पर किसी भी जिम्मेदार विभाग ने उपरोक्त नेपाली तस्कर द्वारा बताये गये छोटू मोटर सायकल मैकेनिक जिससे वह स्मैक खरीदकर लाया था के बारे मे जानकारी लेना भी उचित नही समझा स्थानीय नागरिको का मानना है कि जब तक खाने कमाने वाले जिम्मेदार अधिकारी यहां पर आते रहेंगे । यहाँ नशे का व्यापार यूं ही निर्वाध चलता रहेगा
और सीमा के इस पार व उस पार की युवा जेनरेशन नशे की लत का शिकार होकर अपनी जिंदगी बर्वाद करती रहेगी।

जसवन्त कुमार वर्मा, इडिया नाउ 24, निघासन लखीमपुर खीरी