Breaking News देश राजनीती राज्य होम

मोदी के लिए (चु) नाव, एक सवार बने छोटे और बड़े राव

मोदी के लिए (चु) नाव, एक सवार बने छोटे और बड़े राव
हैट्रिक के लिए बड़े राव का शक्ति प्रदर्शन और किया नामांकन 
पार्टी में भेदभाव, विरोधी मीडिया के द्वारा फैला रहे एेसा भ्रम
छोटे राव नरबीर ने की बड़े राव की रिकार्ड जीत की अपील

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गरुग्राम । अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदी और विपक्षी पार्टी को बड़े राव , मोदी मंत्रीमंडल के वजीर राव इंद्रजीत सिंह ने अपने निशाने पर रखा। अपने नामांकन से पहले जनसभा और समर्थकों सहित बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबांधित करते हुए बड़े राव ने कहा कि, विरोधी मीडिया के माध्यम से भ्रम फैलाते रहे है कि ‘यहां’ मतभेद हैं, वास्तव में यह विपक्ष की अपनी हार देखकर हताशा ही है। इससे पहले सीएम खट्टर के खास मंत्री छोटे राव नरबीर सिंह ने कहा कि राव इंद्रजीत सिंह को इस बार पहले से अधिक और रिकार्ड वोट से जीताना है। पहले कांग्रेस के एमपी रहे, फिर बीजेपी और एक बार फिर से बीजेपी के उम्मीदवार के तौर पर ‘हैट्रिक के लिए बड़े राव ने शक्ति प्रदर्शन के साथ ही  अपना नामांकन किया’। नामांकन के दिन जहां जुम्मा रहा, पूर्णमासी के साथ ही हनुुमान जयंति का पर्व भी रहा।
वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र ने कहा कि, हरियाणा में इस बार सभी दस लोकसभा सीटों पर बीजेपी के उम्मीदवारों को विजयी बनाकर एक इतिहास लिखना है। केंद्र में स्पष्ट बहुमत की मजबूत सरकार सहित दिलेर मोदी को फिर से पीएम बनाना है। आज विपक्ष के पास मोदी की आलोचना के अलावा कोई न मो मुद्दा है और न ही कांग्रेस के पास काम बाकी रह गया है।
मोदी मंत्रीमंडल में वजीर राव इंद्रजीत सिंह ने अपनी एमपी बनने की हैट्रिक के लिए बीजेपी के हरियाणा प्रभारी कलराज मिश्र, सूबे के मंत्री डा बनवारी लाल, गुुरुग्राम के एमएलए उमेश अग्रवाल के साथ चुनाव अधिकारी अमित खत्री के पास में नामांकन के तीन सेट जमा कराये। इससे पहले नामांकन जनसभा के शक्ति प्रदर्शन दौरान और मंच पर बड़े राव समर्थक रेड मैन के नाम से चर्चित सांसद धर्मबीर, डा बनवारी लाल, एमएलए तेजपाल तंवर, पूर्व सांसद डा सुधा यादव, मेवात से रहीशा खान, रणधीर कापड़ीवास, विक्रम ठेकेदार, एमएलए ओम प्रकाश, बिमला चौधरी, प्रो हंसराज, एडवोकेट अशोक आजाद, मेयर मधु आजाद , पूर्व मेयर विमल यादव व समर्थक जिला पार्षद, सहित पार्टी के मेवात, गुरुग्राम और रेवाड़ी से अनेक पदाधिकारी मौजूद रहे।
अपने संक्षिप्त संबोंधन में नपे-तुले शब्दों में राव इंद्रजीत सिंह ने , विरोधी केप्टन का नाम लिये बिना कहा कि-ये सवाल करते है कि पांच वर्ष में क्या किया? एेसी पार्टी और नुमांइदों को अपने गिरेबान में पहले झांक, फिर मुंह खोलना चाहिये। बड़े राव ने हमलावर होते हुए कहा कि, कांग्रेस ने तो गुरुग्राम को सोने के अंडे वाली मुर्गी बना लिया और यहां की जमीन के टुकड़े-टुकडे़ करके अपने चहेतो को बेच दिया। पांच वर्ष पहले देश के लोगों ने फैंसला किया कि इस बार एक ही पार्टी की बहुमत वाली मजबूत सरकार और नरेंद्र भाई मोदी को पीएम बनाना है। इसके बाद में पीएम मोदी ने कहा कि, हम, सरकार और मंत्री सरकार का रिपोर्ट कार्ड पांच वर्ष के बाद ही जनता के बीच रखेंगे। यदि जनता चाहेगी तो कोई विरोधी ताकत फिर से बीजेपी की बहुमत की सरकार को बनने से नहीं रोक सकेगी।
 
हां , हम मांगेगे जनता से वोट
विपक्ष पर हमलावर होते राव इंद्रजीत ने कहा कि, विपक्षी कहते है कि हम बालाकोट, वन रैंक-वन पेंशन के नाम पर वोट मांग रहे हैं। पूर्ववर्ति केंद्र की कांग्रेस सरकार के वित्तमंत्री ने वन रैंक-वन पेंशन के लिए एक सौ करोड़ का बजट दिया था? चुनाव से पहले मोदी रेवाड़ी आये और वन रैंक-वन पेंशन का वादा किया। सरकार बनने के बाद में वन रैंक-वन पेंशन का 2016 में वादा पूरा कर 8500 करोड़ रूपए दिये, जो कि अब 12,500 करोड़ के रूप में  दिये जा रहे हैं। आजादी के बाद मोदी ही एेसे पहले पीएम है, जिनके नेतृत्व में दुश्मन को दुश्मन के घर में ही घुस के मारा गया है।
 
काम तो हजार लेकिन 12 ही सुन ले
अपने मुकाबिल (केप्टन अजय) का नाम लिये बिना और कांग्रेस/नेताओं को खरी-खरी सुनाते कहा कि, पांच वर्ष के दौरान काम तो हजार किये हैं, लेकिन इनके लिए समयाभाव के कारण एक दर्जन काम बताने से ही मुंह बंद और आंखे खुल जाएंगी। बड़े राव ने कहा कि दिल्ली से नीमराणा तक एक इंच किसी की जमीन लिये बिना ही 25 हजार करोड़ से पैरीफैरल बन रही है। रेल कही जमीन के ऊपर मो कहीं जमीन के नीचे दौड़ेगी और किराया भी नाम मात्र का ही रहेगा। कांग्रेस दस वर्ष में केएमपी पर एक रोड़ी भी नहीं डाल सकी, लेकिन मोदी सरकार के द्वारा 46 सौ करोड़ से समय से पहले बनाया गया। गुरुग्राम का राजस्व गुरुग्राम के ही विकास में लगे, इसके लिए जीएमडीए बनाया गया। मनेठी में एम्स लेकर आया, एेसे और भी बड़े प्राजेक्ट हैं।