Breaking News देश राज्य होम

ट्रैक्टर चालक ने सूझबूझ से बुझाये सुलगते गेहूं के खेत

ट्रैक्टर चालक ने सूझबूझ से बुझाये सुलगते गेहूं के खेत
घटना गांव बोहड़ाकला की ढ़ाणी चितरसेन की
बिजली के तारों की चिंगारी से भडक़ी थी आग

 

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम।   अपने खेत में ट्रैक्टर चला रहे चालक ने जैसे ही देखा कि पास के खेत में खड़ी गेंहूं की फसल में आग सुलग रही है, बिना देरी किये चालक ने अपना ट्रैक्टर आग लगी गेंहू की फसल के खेत की तरफ दौड़ाया और चारों तरफ गोल चक्कर लगाते ट्रैक्टर को तेजी से एेसे दौड़ाकर हैरो से खुइार्द कर दी कि आग आसपास के खेतों में नहीं फैल सके। अन्यथा आग के फैलने से आसपास के किसानों की तैयार फसल भी आग की चपेट में आ सकती थी।
ढाणी चितर सेन के सरपंच मास्टर हरि सिंह ने बताया कि, लोग अपने-अपने खेतों में काम करते हुए तैयार गेहूं की फसल की कटाई कर रहे थे। खेतों के बीच ये ही बिजली के तार भी जा रहे हैं, ढ़ीले और लटके ंतारों के आपस में टकराने के कारण फूटी चिंगारी गिरने से फसल में आग फैैलना शुरू हो गई। यह देखकर आसपास में काम कर रहे लोगों में डर फैल गया कि आग और अधिक नहीं फैलने पाये। लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया, साथ ही आसपास के टयूबवेल की तरफ भी दौड़े कि पानी चलाकर आग को काबू किया जाए।
किसान अनिल पुत्र फतेह सिंह और किसान विनोद पुत्र ओम प्रकाश के खेत आपस में सटे हुए हैं,  आरंभ में आग भी इन्ही दोनों के खेतों में गेंहू की फसल में सुलगना शुरू हुुई। ट्रैक्टर चालक के द्वारा आग को फैलने से रोकने तक फिर भी करीब एक एकड़ में खड़ी फसल आग की चपेट में आकर जल गई। सरपंच हरि सिंह ने ट्रैक्टर चालक की सुझबूझ की सराहना करते हुए कहा कि, उसके कारण ही किसानों का बहुत बड़ा नुकसान होने से बच गया है।