Breaking News देश राज्य होम

वोटिंग ताऊ ने लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने संबंधी आवश्यक जानकारी दी

वोटिंग ताऊ ने लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने संबंधी आवश्यक जानकारी दी

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरूग्राम। ‘आओ करें मतदान की चोट, और मिटाएं लोकतंत्र में खोट’। यह संदेश आज वोटिंग ताऊ ने जिला गुरूग्राम में लोगों को अपने मताधिकार के प्रयोग संबंधी जानकारी देते हुए दिया। वोटिंग ताऊ ने आज हुडा सिटी मैटो स्टेषन व आस पास के क्षेत्रों में जाकर लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने संबंधी आवश्यक जानकारी दी।

वोटिंग ताऊ ने लोगो को मताधिकार का महत्व समझाते हुए कहा कि 12 मई को लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व है और हम सभी को मिलकर लोकतंत्र निर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान देना होगा। उन्होंने कहा कि यह हम सबकी सांझी जिम्मेदारी है कि हम सभी अपने मताधिकार का प्रयोग कर एक ऐसे उम्मीदवार का चयन करें जो राष्ट्र को तरक्की की ओर ले जाए व जमीनी हकीकत को समझते हुए हमारी समस्याओं को जड़ से उखाड़ फेंके। उन्होंने कहा कि हम सभी को बिना किसी के प्रभाव व लालच, धर्म, जाति व सम्प्रदाय के भेद से ऊपर होकर अपने मतदान का प्रयोग करना है। उन्होंने कहा कि यह मौका हम सभी को पूरे पांच साल बाद मिला है इसलिए हम सभी को इस मौके का पूरा लाभ उठाना है। हमे इस बात का गर्व होना चाहिए कि हम सभी को लोकतंत्र के पर्व में शामिल होने का मौका मिल रहा है।

लोगों ने कहा कि वोटिंग ताऊ ने इस चुनावी मौसम को खुशनुमा तो बनाया ही है साथ ही हम सभी में एक नई ऊर्जा का भी संचार किया है। युवाओं ने कहा कि वे वोटिंग ताऊ से पहली बार मिल रहे है अभी तक उन्होंने वोटिंग ताऊ को टीवी व अखबारों में ही देखा था। वोटिंग ताऊ की पहुंच समाज के हर वर्ग तक है और वे बहुत ही आसान व सरल शब्दों में वोट डालने संबंधी जानकारी देते है। वोटिंग ताऊ को देखकर उन्हे प्रेरणा मिलती है कि वे आमामी लोकसभा चुनावों में अपने मताधिकारा का प्रयोग करे। इसके साथ ही युवाओं ने जिला प्रशासन का भी आभार व्यक्त किया कि उन्होंने लोगों तक वोटिंग ताऊ को पहुंचाया ताकि लोगों को घूमते फिरते अपने घर बैठे ही मतदान करने संबंधी जानकारी मिल जाए।

जिला सूचना एंव जनसंपर्क विभाग के कलाकार भीम सैन व ष्यामवेद रोजाना लोगों के बीच वोटिंग ताऊ बनकर उन्हे अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेेरित करते है। ये कलाकार प्रातः निकलते है और जिला के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर उन्हे अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करते है।