Breaking News देश राज्य होम

दुधारू पशुओं को गलघोंटू व मुंह-खुरपका घातक बीमारियों से बचाने के लिए टीकाकरण अभियान जारी

दुधारू पशुओं को गलघोंटू व मुंह-खुरपका घातक बीमारियों से बचाने के लिए टीकाकरण अभियान जारी

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरूग्राम । दुधारू पशुओं को गलघोंटू व मुंह-खुरपका जैसी घातक बीमारियों से बचाने के लिए जिला में विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है । इस अभियान के तहत जिला के सरकारी पशु अस्पतालों में गाय व भैंस समेत दुधारू पशुओं को इन घातक बीमारियों से टीका लगाया जा रहा है।

गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने जिला के सभी पशुपालकों से अपील की है कि वे अपने दुधारू पशुओं को इन बीमारियों से बचाने के लिए इस टीकाकरण अभियान से जुड़े। उन्होंने बताया कि पहले इन दोनों बीमारियों से बचाव के लिए पशुओं को अलग अलग दो टीके लगाए जाते थे । पहले निजी पशु अस्पतालों में इन दोनों बीमारियों के लिए एक ही टीका उपलब्ध था लेकिन सरकारी पशु अस्पतालों में यह टीका उपलब्ध नहीं था। इन दोनों बीमारियों से पशुओ के बचाव के लिए पहली बार सभी सरकारी पशु अस्पतालों मे ंएक ही टीका उपलब्ध करवाया गया है। इस टीकाकरण से पशुपालकों को बड़े पैमाने पर राहत मिलेगी और वे अपने दुधारू पशुओं को गलघोटू व मुंह-खुरपका जैसी घातक बीमारियों से बचा सकेंगे ।

पशुपालन डेयरी विकास विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ पुनीत अहलावत ने बताया कि पशुपालन विभाग ने गाय व भैंस सहित दुधारू पशुओं को इन घातक बीमारियों से बचाने के लिए टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया है जो 30 अप्रैल तक चलेगा। उन्होंने सभी पशु पालकों से अपील की है कि वे अपने दुधारू पशुओं को यह टीका जरूर लगवाएं ताकि पशुओं को घातक बीमारियों से बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि कई पशु पालकों ने इस टीकाकरण को लेकर धारणा बनी हुई थी कि इस टीकाकरण से पशुओं के दूध देने की क्षमता कम हो जाती है जोकि पूर्णतया गलत है।

उन्होंने बताया कि इस टीके के लगने से पशुओं के दूध देने की क्षमता पर कोई फर्क नहीं पड़ता। इस टीके को लगवाने के बाद पशुपालकों को अपने पशुओं को सरसों का तेल में कैल्शियम की दवा जरूर देनी चाहिए। इससे पशु सामान्य रहता है और दूध की मात्रा एक बूंद भी नहीं घटती। उन्होंने बताया कि गलघोंटू व मुंह-खुरपका बीमारी मुख्य रूप से गाय-भैंसों में होती है, लेकिन अगर समय रहते उन्हें यह टीके लगवाए जाएं तो उनका बचाव किया जा सकता है। उन्होंने पषुपालकों से आग्रह किया है कि जिन पषुपालकों ने अब तक अपने दुधारू पषुओ का टीका नही करवाया है वे दूरभाश नंबर 0124-2202115 पर कार्यदिवस के दौरान प्रातः 9 बजे से सांय 5 बजे तक संपर्क कर सकते हैं।

जिन गांवो व क्षेत्रांे को किया जा चुका है कवर

उन्होंने बताया कि टीकाकरण अभियान के तहत अब तक जिला के भौंडसी, नया गांव, बहलपा, महेन्दवाड़ा, सहजावास, रिठौज, अलीपुर, घामड़ौज, खेड़कीदौला , दरबारीपुर, हसनपुर, मौहम्मदपुर झाड़सा, सिही, डुंडाहेड़ा, मोल्लाहेड़ा, सिरहौल, छावन, कार्टरपुरी, धर्म काॅलोनी, ओम विहार, बाघनकी, खेड़की, लांगड़ा, राठीवास, पथरेड़ी, बिलासपुर कलां, बिलासपुर खेड़ा, पंचगांव, कुकड़ौला, ग्वालियर , फाजिलवास ,चांदला डुंगरवास, बाड़गुर्जर, नाखड़ौला, नाहरपुर, ढाणा, अलियर, कांकरौला, बासहरिया, बामड़ौली, हयातपुर, मांकड़ौला, गढी हरसरू, साढ़राणा, हरसरू, धर्मपुर, मोहम्मदहेड़ी, खेड़की माजरा, धनवापुर, बजघेड़ा, दौलताबाद, धुरेला, बेरका, मोहम्मदपुर, सोहना ढाणी , लाखुवास, नंगली खाईका, हाजीपुर, खुंटपुरी, भोगपुर, मैदावास , सुखराली, सिंकदरपुर, चकरपुर, घसोला, नाथुपूर , घाटा, वजीराबाद, तिगड़ा, समसपुर, चमनपुर, हरचंदपुर, रहाका, रानीपोस सिंघोला, घैंघोला, लोह सिंघानी, सतलाका व बिलहाका, खत्रीका, रामगढ़ , पालड़ा, अकलीमपुर, सपतपुर, गैरतपुर बास, टिकली, ग्वालपहाड़ी, बंधवाड़ी, बहरामपुर, कादीपुर, गड़ौली कलां खुर्द, बसई एन्क्लेव, देवीलाल नगर, अर्जुन नगर, गंगा विहार, ईस्ट एंड वैस्ट राजीव नगर, लक्ष्मण विहार, अषोक विहार फेज-3, संजय ग्राम, पार्ट-4 षीतला काॅलोनी, सफेद नगर , नरहेड़ा, पटौदी, बासलांबी खरकड़ी, ततरपुर, मोकलवास , ख्वासपुर, पहाड़ी, मौजावास , गदईपुर, घिलनवास, महानियावास, खलीलपुर, सिवाड़ी, ढाणी सिवाड़ी, जराउ , सुदंरपुर, एस पी मांजरा, बिरहेड़ा, गगन करोला,  राजपुरा, तुरकपुर, लोकरा, उंचा मांजरा, लोकरी, बासपदमका, इंछापुरी, मिर्जापुर, रनसिका, देवलावास, छावन, बापस, नांनूखुर्द, खानपुर, हेड़ा हेड़ी, खोड़ गोरियावास, झांझरौला, मुबारिकपुर व कालियावास षामिल है।