देश राजनीती राज्य होम

सराहनीय कार्य करने वाले पुलिस अधिकारियों/ कर्मचारीयों को पुलिस आयुक्त ने ₹ 5000 नकद व प्रशंसा पत्र देकर किया सम्मानित

सराहनीय कार्य करने वाले पुलिस अधिकारियों/ कर्मचारीयों को पुलिस आयुक्त ने ₹ 5000 नकद व प्रशंसा पत्र देकर किया सम्मानित

रिपोर्टर मधु खत्री फरीदाबाद India now24
फरीदाबाद: पुलिस आई संजय कुमार ने जिला फरीदाबाद में तैनात पुलिसकर्मियों के द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए उन्हें अपने कार्यालय सेक्टर 21c बुलाकर ₹5000 नगद एवं प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया है।आपको बताते चलें की पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने फरीदाबाद जिले में तैनात पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों को उनके द्वारा किए गए बेहतरीन कार्य के लिए प्रोत्साहन स्वरूप स्टार ऑफ द मंथ बनाने का फैसला लिया था।जिसके चलते संजय कुमार ने निम्न पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सम्मानित किया है जो इस प्रकार है: –

1. इंस्पेक्टर विमल राय
2. इस्पेकटर इन्दू बाला
3. S.i. सुमेर सिंह
4. ईएसआई धर्मवीर सिंह ट्रेफिक के द्वात दिसम्बर माह मे किए गए कार्य के लिव बाकी सभी को. जनवरी 19 के लिए स्टार आफ द मंथ बनाया गया है।
5. S.i. विजेंदर सिंह
6. S.i. लाजपत
7. एएसआई संदीप कुमार
8. एचसी भूपेंद्र
9. एचसी दिनेश
10. एचसी संदीप
11. एएसआई सुमेर सिंह

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि इंस्पेक्टर इंदु बाला एसएचओ पुलिस थाना, इंस्पेक्टर विमल राय इंचार्ज क्राइम ब्रांच सेक्टर 30, s.i. सुमेर सिंह इंचार्ज क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 को मात्र 7 दिन के अंदर रेप केस सुलझाने और आरोपियों को गिरफ्तार करने पर सम्मानित किया गया है।

ईएसआई धर्मवीर सिंह ट्रेफिक स्टॉप को दिसंबर माह में इनके द्वारा किए गए 1800 चालान पर सम्मानित किया गया है।

एसआई बीरेंद्र क्राइम ब्रांच बीपीटीपी को रेप केस में भागे हुए आरोपी की गिरफ्तारी पर सम्मानित किया गया है।

एसआई लाजपत इंचार्ज क्राइम ब्रांच सेक्टर 65, ईएसआई संदीप कुमार क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 वाहन चोरी के गिरोह को पकड़ मामले सुलझाने पर सम्मानित किया है।

एचसी भूपेंद्र, दिनेश और संदीप क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 के द्वारा वाहन चोरी के केस को सुलझाने पर सम्मानित किया गया है।

ईएसआई सुमेर सिंह ट्रेफिक स्टॉप को उनके द्वारा 1 महीने में किए गए 1700 चालान पर सम्मानित किया गया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि पुलिस आयुक्त ने कहा है कि यह पोलिसी अधिकारियों एवं
पुलिसकर्मीयों में अच्छे कार्य करने के लिए प्रेरित करेगी पुलिसकर्मीयों में बेहतर करने की भावना विकसित होगी।

उन्होने बताया कि इससे कार्यो को बेहतर रूप मिलेगा, पुलिसकर्मीयों का मनोबल और कार्य करने की क्षमता बढेगी जिससे बेहतर परिणाम सामने आएगें।