Breaking News देश राज्य होम

उद्योग जगत ने की खेड़कीदौला टोल को स्थानांतरित की मांग

उद्योग जगत ने की खेड़कीदौला टोल को स्थानांतरित की मांग
-सीएम व केंद्रीय मंत्री से मिलेगा एनसीआर चैम्बर आॅफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री का प्रतिनिधिमंडल

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम। सरकार द्वारा बार-बार दिये जा रहे आश्वासन के बावजूद अभी तक गुरुग्राम व मानेसर के बीच बने खेड़कीदौला टोल स्थान्तरित नहीं किये जाने से गुरुग्राम जिला की औद्योगिक एवं व्यावसायिक इकाइयों को कठिनाइयों तथा नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। यह स्थिति उद्योग व व्यवासाय के लिए बाधक ही नहीं, हतोत्साहित करने वाली भी है।
यह बात एनसीआर चैम्बर आॅफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री के अध्यक्ष एचपी यादव ने कहा कि चैंबर के सदस्यों तथा अन्य उद्यमियों ने प्रतिदिन खेड़कीदौला टोल के कारण होने वाले नुकसान व परेशानियों से अवगत कराया। इस अति महत्वपूर्ण मामले को प्रदेश सरकार और स्थानीय सांसद व केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत के समक्ष प्रमुखता से उजागर करने की मांग की। गुरुग्राम स्थित उद्योग विहार, मानेसर और सोहना के उद्यमियों की इस मांग के प्रति उन्होंने अपनी सहमति जताते हुए कहा है कि शीघ्र ही से इसको लेकर प्रदेश के सीएम मनोहर लाल और केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत से मिलेंगे और इस लंबित विषय पर तत्काल निर्णय लेने की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि आश्चर्यजनक रूप से एक नगर निगम/शहरी क्षेत्र में ही अपने सामान की ढुलाई के लिए एक ही संस्थान को दिन में कई बार टोल देने पड़ते हैं, जबकि टोल पर लगने वाले लम्बे जाम के कारण अनावश्यक रूप से अधिक समय लगने से उत्पादकता भी बुरी तरह प्रभावित होती है। प्रदेश सरकार को इस दिशा में तत्काल निर्णय लेना चाहिए और इसे स्थानांतरित कराने की व्यवस्था करनी चाहिए। श्री यादव का कहना है कि गुरुग्राम में अधिकतर आयात व निर्यात करने वाली इकाइयां है। टोल पर लगने वाले जाम के कारण जापानी, कोरियन, चाईनीज व अन्य विदेशी कम्पनियों के प्रतिनिधियों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है तथा यहां से ट्रैफि क जाम की दयनीय तस्वीर साथ ले जाते है। एनसीआर चैंबर के अध्यक्ष ने कहा कि सही मायने में यह टोल प्लाजा दक्षिणी हरियाणा के औद्योगिक विकास में बाधक है।