देश राजनीती राज्य होम

डिप्टी CM के चहेते अफसर पर कार्यवाही का साहस नही जुटा पा रहे आयुक्त अधिशासी अधिकारी ने फर्जी पत्रावली बनाकर किया सरकारी बंजर भूमि का पट्टा

डिप्टी CM के चहेते अफसर पर कार्यवाही का साहस नही जुटा पा रहे आयुक्त

अधिशासी अधिकारी ने फर्जी पत्रावली बनाकर किया सरकारी बंजर भूमि का पट्टा

सिराथु कौशांबी- सिराथू नगर पंचायत में सरकारी भूमि का गलत तरीके से पट्टा किये जाने के खुलासे के बाद भी दोषी अधिकारी पर कार्यवाही का साहस आयुक्त नही कर पा रहे है अधिकारी डिप्टी CM के चहेते बताए जाते हैं कौशाम्बी जनपद में इस समय अधिकारियों के फर्जी कारनामे चरम पर हैं।

अधिकारी अपनी कुर्सी की हेकड़ी से सरकार की आंख में धूल झोंक कर बड़े-बड़े फर्जी कारनामे करते दिखाई दे रहे हैं अतः सुबे में चल रही योगी सरकार की छवि को बेतहाशा धूमिल करने से अधिकारी बाज नहीं आ रहे हैं|

ताजा मामला सैनी थाना क्षेत्र के सिराथू नगर पंचायत का का है जहां नगर पंचायत के पूर्व अधिशासी अधिकारी लाल चंद्र मौर्य डिप्टी CM के रिश्तेदार होने का दम्भ भर कर तमाम जायज नाजायज कार्यो को अंजाम दे कर तिजोरी भरने में सफल रहे ।

तत्कालीन अधिषासी अधिकारी ने आरजी संख्या 974/1 क्षेत्र सिराथू की बंजर जमीन को लाखो ले कर के भूमाफियाओं से सांठगांठ करके उस पर झूठी पत्रावली बनाकर उसमें पट्टा घोषित करा दिया है, बताया जा रहा है कि जिस बंजर जमीन का पट्टा पूर्व अधिशासी अधिकारी ने कराया है उस जमीन का पिछले कई सालों से न्यायालय में मुकदमा चल रहा है तथा पूर्व अधिशासी अधिकारी सिराथू ने पैसों का लेनदेन करके सिराथू के ही एक युवक पंचम लाल का फर्जी पट्टा करके पंचम द्वारा बंजर जमीन पर लकड़ी की टाल खोलकर उसमें व्यवसाय किया जा रहा है अतः शिकायतकर्ता संगम लाल शुक्ला ने आयुक्त और जिलाधिकारी से पंचम एवं पूर्व अधिशासी अधिकारी लाल जी मौर्या की शिकायत कर इस विषय में जांच कराकर न्यायिक कार्यवाही कराने की मांग की है|लेकिन आरोपी अधिकारी के बिरुद्ध पर्याप्त साक्ष्य के बाद भी आरोपी अधिकारी पर कार्यवाही का साहस जिम्मेदार अधिकारी नही जुटा पा रहे है।

मनोज सिंह कौशांबी ब्योरो चीफ