Breaking News देश राज्य होम

काम्यूनिकेटर होने को शब्दों से मित्रता होना आवश्यक: डा. ऊषा साहनी

काम्यूनिकेटर होने को शब्दों से मित्रता होना आवश्यक: डा. ऊषा साहनी

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम। शहीद मंगल पांडे राजकीय गल्र्स पीजी कॉलेज मेरठ में अंग्रेजी की वरिष्ठ शिक्षक डॉ. ऊषा साहनी ने कहा है कि बेहतर काम्यूनिकेटर होने के लिए शब्दों के साथ मित्रता होना आवश्यक है। वे यहां मॉस कम्यूनिकेशन एण्ड मीडिया टेक्नोलोजी डिपार्टमेन्ट के फैकल्टी और जर्नलिज्म के विद्यार्थियों से कम्यूनिकेशन स्किल इन इंगलिश विषय पर आयोजित कार्यशाला में विद्यार्थियों से संवाद करते हुए कही। कोई भी व्यक्ति अपने आसपास के परिवेश में प्रेजेन्स ऑफ  माइन्ड रखते हुए कल्पनाशीलता एवं रचनात्मक ढंग से अपने आपको अभिव्यक्त कर सकता है। डॉ. साहनी ने विभिन्न गेम्स के माध्यम से विद्यार्थियों को अंग्रेजी में बेहतर संचार कौशल विकसित करने के व्यावहारिक सुझाव दिए। प्रारम्भ में विभाग के डीन प्रोफेसर संजीव भानावत ने डॉ. साहनी का परिचय देते हुए कहा कि जीवन में सफलता के लिए प्रभावी संचार आवश्यक है। कार्यशाला का संचालन सहायक प्रोफेसर प्रियंका कटारिया ने किया। इस अवसर पर विभाग के प्रोफेसर डॉ. मुकेश कुमार तथा प्रोफेसर सुशील शर्मा भी उपस्थित थे।