देश राजनीती राज्य होम

सभ्यता और संस्कृति की बदौलत भारत वर्ष ने विश्व में अपनी एक विशेष पहचान बना चुका है: रामबिलास शर्मा

सभ्यता और संस्कृति की बदौलत भारत वर्ष ने विश्व में अपनी एक विशेष पहचान बना चुका है: रामबिलास शर्मा

रिपोर्टर मधु खत्री फरीदाबाद India now24
हरियाणा के शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि हमारे देश की संस्कृति दुनिया में सर्वोपरि है। सभ्यता और संस्कृति की बदौलत भारत वर्ष ने विश्व में अपनी एक विशेष पहचान बनाई है। सूरजकुंड क्राफ्ट मेला विभिन्न देशों व प्रदेशों की संस्कृति का सांझा मंच बन चुका है, जिसे यहां आने वाले पर्यटक खूब पसंद कर रहे हैं।
शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री 33वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले का अवलोकन करने के उपरांत बड़ी चौपाल में उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने, प्रचार एवं प्रसार करने के लिए कारगर कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि सूरजकुंड मेला ने भारत वर्ष ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपनी विशेष पहचान बनाई है। इस मेले में विभिन्न देशों के अतिरिक्त हमारे देश के सभी राज्य भाग ले रहे है।
पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि इस मेले के माध्यम से प्रदेश के लोगों को एक ही स्थान पर विभिन्न देशों एवं अलग-अलग राज्यों की सांस्कृतिक झलक देखने का मौका मिल रहा है। इस मेला में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के ख्याती प्राप्त कलाकार अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर दर्शकों को भाव-विभोर कर रहे हैं। राष्ट्रीय स्तर की कलाकार मालिनी अवस्थी द्वारा प्रस्तुत किए गए सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि मालिनी ने गायन के माध्यम से पूरे भारत की संस्कृति का एक मंच पर वर्णन किया है।
उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले को लेकर विभाग के अधिकारियों के साथ विस्तार से बातचीत की और आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि मेले में आने वाले पर्यटकों के लिए हर संभव सुविधा उपलब्ध करवाई जाए। इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव विजय वर्धन सहित शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा की धर्मपत्नी श्रीमती विमला देवी, पुत्री अन्नपूर्णा, उदोत्तमा, दामाद विक्रम, निजी सचिव नवीन कौशिक सहित परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद थे।