Breaking News देश राज्य होम

कम्प्यूटर शिक्षा भविष्य की मांग है-कपीस यादव

कम्प्यूटर शिक्षा भविष्य की मांग है-कपीस यादव
इंटर स्कूल कम्प्यूटर प्रतियोगिता  का आयोजन
पुस्तकों व वाघ यंत्रों का विधिवत रुप से पूजन 

 

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम । झंकार इंटरनैशनल सीनीयर सैकेंडरी स्कूल बावडाबाकीपुर में प्रांगण में शनिवार को एक दिवसीय इंटर स्कूल कम्प्यूटर प्रतियोगिता एंव बसत पंचमी महोत्सव का आयोजन किया गया। उसका शुभारम्भ विद्यालय प्रबंधन कमेटी के चेयरमैन कपीस यादव ने मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवति करके किया। और इस दिन को संगीत एंव विद्वा को समर्पित किय।  इस मौके पर विद्यालय के छात्रों ने सरस्वती वंदना के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तूत करके कार्यक्रम में चार चांद लगा दिया।

इस अवसर पर कपिस यादव व प्रधानाचार्या पूजा राव बताया कि  मां सरस्वती सुर एंव विद्या की जननी कही जाती है। इसलिए बसंत पंचमी के दिन पुस्तकों व वाघ यंत्रों का विधिवत रुप से पूजन किया जाता है। उन्होंने बताया कि आज के आधुनिक युग में प्रतियोगिता में बने रहने के लिए कम्प्यूटर की शिक्षा अनिवार्य है। इसके बिना गुजारा नहीं है। विद्यालय स्तर पर ही नहीं सरकार भी कम्प्यूटर ज्ञान पर विशेष बल दे रही है। यह कम्प्यूटर और तकनीकी जानकारियों की उपलब्धी है कि हम सब घर बैठे पूरे विश्व की वर्तमान स्थित को मोबाईल, कम्प्यूटर पर नेट नेट की सहायता से  आसानी से जान लेते है। उन्होंने बताया कि कम्प्यूटर शिक्षा में महारत प्राप्त करने के बाद छात्र को बेरोजगारी की मार का सामना नहीं करना पड़ा है। कम्प्यूटर शिक्षा का हर विभाग में स्कोप है चाहे वह सरकारी हो या प्राईवेट क्षेत्र । इसलिए प्रत्येक छात्र को बैशिक शिक्षा के साथ कम्प्यूटर का ज्ञान भी अवश्य प्राप्त करना चाहिए यह समय की मांग है। आने वाला समय मैनवल कार्यो का नहीं ,बल्कि सब कुछ कम्प्यूटर पर माउस से कमांड देने मात्र से ही कार्य हल हो जाएंगे। वर्तमान में भी इसके काफी उदाहरण हम सबके सामने है।