Breaking News खेल देश राज्य होम

 रेसलिंग लीग मुकाबले के बाद अब जल्द उतरेंगे चुनावी अखाड़े में : धर्मपाल राठी

 रेसलिंग लीग मुकाबले के बाद अब जल्द उतरेंगे चुनावी अखाड़े में : धर्मपाल राठी
पंजाब रॉयल्स के मालिक गुडग़ांव से लड़ चुके हैं पिछला लोकसभा चुनाव

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुडग़ांव। प्रो रेसलिंग लीग में दो बार की चैंपियन रह चुकी पंजाब रॉयल्स चौथे सीजन में भी लगातार बढ़त बनाए रखी। फाइनल से पहले पंजाब ने छह मैच खेल जिसमें एक को छोडक़र लगातार पांच मैच जीते। परंतु फाइनल में चैम्पियन पंजाब रॉयल्स का खिताबी हैट्रिक जमाने का सपना टूटा गया। हरियाणा ने प्रो रेसलिंग लीग सीजन-4 की फाइनल टाई 6-3 से जीत ली। चैंपियन बनने पर हरियाणा हैमर्स को 1 करोड़ 90 लाख का चेक वहीं दूसरे स्थान पर रहे पंजाब रॉयल्स को 1 करोड़ 10 लाख का चेक पुरस्कार स्वरूप मिला। पंजाब रॉयल्स के मालिक धर्मपाल राठी ने बताया कि इस लीग में उनकी टीम हार कर भी जीती है। फाइनल में शुरूआत में उनकी टीम के दो पहलवानों 86 किलो में दातो मार्सागिश्विली एवं 76 किलो कटेगरी में यूरोपियन ब्रॉन्ज मेडेलिस्ट सिन्थिया वेस्कन का निराशाजनक प्रदर्शन रहा परंतु बाद में कप्तान बजरंग पुनिया समेत अन्य पहलवानों का प्रदर्शन अच्छा रहा परंतु तबतक देर हो चुकी थी।
गुडग़ांव के बेरीवाला बाग में मौजूद कार्यालय पर अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए धर्मपाल राठी ने कहा कि विश्व के सबसे बड़े दंगल प्रो रेसलिंग लीग मुकाबले में उनकी टीम पंजाब रॉयल्स लगातार दो बार विजय पताखा फहरा चुकी है और अब आने वाले देश के सबसे बड़ी चुनावी दंगल में गुडग़ांव से फिर भाग्य आजमाएंगे। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को लोकसभा चुनाव के लिए अभी से ही कमर कस लेने का आह्वान किया। उन्होंने यह भी कहा कि वे जल्द ही एक बड़ी रैली कर चुनावी अखाड़े में उतरेंगे। मालूम हो कि धर्मपाल पहलवान राठी पिछला लोकसभा चुनाव बहुजन समाज पार्टी की टिकट पर गुडग़ांव लोकसभा सीट से लड़ चुके हैं।
पूरा फाइनल मुकाबला इस प्रकार रहा
प्रो रेसलिंग लीग सीजन-4 में हरियाणा हैमर्स को यह सफलता लगातार चौथी बार फाइनल  में पहुंचने के बाद मिली। पिछले तीन बार के उप विजेता हरियाण हैमर्स ने गुरुवार को मौजूदा चैम्पियन पंजाब रॉयल्स के खिलाफ यहां गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी इंडोर स्टेडियम में चल रही प्रो रेसलिंग लीग (पीडब्लूएल) में चौथे सत्र की फाइनल टाई के शुरुआती पांचों मुकाबले जीतकर जबर्दस्त अंदाज में खिताब अपने नाम कर लिया।
उक्रेनी सुपर हैवीवेट पहलवान एलेक्जेंडर खोत्सिनिवस्की, बेलारूसी पहलवान अली शाबानोव, किरन, रवि कुमार और मोल्डोवा की अनास्तासिया निचिता ने हरियाणा के लिए लगातार पांच मुकाबले (5-0) जीतकर चैम्पियन पंजाब रॉयल्स के खिताबी हैट्रिक पूरी करने के सपने तोड़ दिया।
फाइनल में पंजाब का खिताबी अभियान उसके कप्तान और स्टार पहलवान बजरंग पुनिया के मैट पर उतरने  से  पहले  ही खत्म हो गया। एशियन गेम्स गोल्ड मेडेलिस्ट और पद्मश्री बजरंग ने रजनीश पर प्रभावशाली ढंग से 11-0 की जीत हासिल की। 65 किलो कटेगरी के वल्र्ड नंबर वन की यह जीत बहुत देर से आई तबतक स्कोर 1-5 हो गया।
महत्वहीन रह गए अंतिम चार मुकाबले में पंजाब ने तीन जीते। पंजाब के अमित धनकड़ ने 74 किलो प्रवीण राणा को 5-2 से हराकर स्कोर 2-5 किया। पंजाब की खेलो इंडिया की गोल्ड मेडेलिस्ट अंजू ने महिला 53 किलो में शानदार वापसी करते हुए हरियाणा की कॉमनवेल्थ चैम्पियशिप स्वर्ण पदक विजेता सीमा को 10-5 से हराकर स्कोर 3-5 कर दिया। फाइनल टाई का अंतिम मुकाबला हरियाणा की यूरोपियन चैम्पियनशिप उपविजेता तात्याना ओमेल्चेंको ने अनिता को 9-0 से हराकर  स्कोर 6-3 कर दिया। इस तरह हरियाणा 6-3 के अंतर से जीतकर चैम्पियन बना।
इससे पहले शाम को टाई के पहले मुकाबले (125 किलो)  में उक्रेनी सुपर हैवीवेट पहलवान एलेक्जेंडर खोत्सिनिवस्की ने कनाडा के कोरे जार्विस को 3-0 से हराकर हैमर्स को शुरुआती बढ़त दिलाई। हरियाणा के बेलारूसी पहलवान अली शाबानोव ने 86 किलो में दातो मार्सागिश्विली से पिछली हार का हिसाब चुकाया। उन्होंने जॉर्जियाई प्रतिद्वंद्वी को सत्र की पहली हार का स्वाद चखाते हुए 4-3 से जीत हासिल की।
कॉमनवेल्थ गेम्स की रजत पदक विजेता किरन ने महिला 76 किलो कटेगरी में पंजाब की यूरोपियन ब्रॉन्ज मेडेलिस्ट सिन्थिया वेस्कन को 3-1 से हराकर हैमर्स को 3-0 से आगे कर दिया।
वल्र्ड अंडर-23 चैम्पियनशिप सिल्वर मेडेलिस्ट रवि कुमार ने हरियाणा को 4-0 की बढ़त  के साथ खिताब के करीब ले आए। उन्होंने 57 किलो में मौजूदा चैम्पियन पंजाब के नितिन राठी को 8-0 से हरा दिया।
टाई का पांचवां मुकाबला भी हरियाणा हैमर्स के पक्ष में गया। मोल्डोवा की अनास्तासिया निचिता ने यूरोपियन  चैम्पियनशिप की उपविजेता मिमि हिस्टोवा को हराकर हरियाणा को चैम्पियन बना दिया। महिला  57 किलो के इस कड़े मुकाबले में दोनों यूरोपियन पहलवान 4-4 की बराबरी पर थी, लेकिन वल्र्ड जूनियर चैम्पियन अनास्तासिया ने अंतिम समय में मिली को चित करके मुकाबला अपने नाम किया।