Breaking News देश राजनीती राज्य होम

मोरंग घाट का उद्घाटन हुआ नही, मशीने पहले से ही जमकडा लगाकर दुल्हन की तरह सजी खड़ी

views
2

रिपोर्ट रामनगर कौहन/फतेहपुत
      रिपोर्टर विवेक मिश्रा

मोरंग घाट का उद्घाटन हुआ नही, मशीने पहले से ही जमकडा लगाकर दुल्हन की तरह सजी खड़ी

माँ कलिंदनी का सीना चीरने के लिए तैयार खड़ी पोकलैंड मशीन

असोथर/फतेहपुर असोथर कस्बे से 6 किलोमीटर दूर दक्षिण दिशा में ग्राम सभा रामनगर कौहन में अभी मोरम घाट का उद्घाटन नही हुआ है लेकिन पोकलैंड मशीनों का जमघट लग चुका है मशीने बिल्कुल माँ कलिंदनी का सीना चीरने को तैयार खड़ी है। मशीने तो खड़े ऐसे इंतज़ार कर रही है जैसे ही मोरम घाट का उद्घाटन हुआ नही तो माता कलिंदनी की कोख को छल्ली कर दिया जाए।
वही मोरम घाट के ठेकेदार खुद को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सगे भाई बताते है। वही मोरम घाट के लिए जिन किसानों के खेतों से रास्ता बना है उनको अभी तक पुर्ण रूप से पैसा नही मिला है।
समय बदला कानून बदला कानून के संवाहक बदले पर नही बदला तो सूबे मे होने वाला अवैध खनन..
सूबे मे सुशासन का दम्भ भरने वाली योगी सरकार नदियो के संरक्षण पर कितनी संवेदनशील है इसकी झलक यूपी की सड़को पर फर्राटा भरते ओवरलोड वाहन व कालंदी तीरे होने वाले खनन की हकीकत देखने से पता चलती है जहां नदियो की कोख पोकलैण्ड मशीनो से चीरा जा रहा है
पूर्ववर्ती सरकारो की नीतियो के धुर आलोचक योगी जी की नीतियो मे भी खनन को लेकर कोई खास परिवर्तन नही दिख रहा
मीडिया प्रेस कान्फ्रेंस में कैमरे के सामने बैठकर मुख्यमंत्री जितने आत्मविश्वास से लबरेज होकर अवैध खनन पर कोई ढील न दिए जाने का दम्भ भरते दिखायी देते है वाकई मे धरातल पर उसकी सच्चाई उनके व्याख्यानो से कोसो दूर नजर आती है ऐसा ही जनपद फतेहपुर के मौरंग घाटो दिखने को मिलेगा जिसे देखकर सुशासन व रामराज्य की उम्मीद लगाए बैठी जनता मायूस होती नजर आती है जनपद के ही रामनगर कौहन घाट का अभी उद्घाटन भी नही हुआ कि वहां खनन मे प्रयोग की जाने वाली पोकलैण्ड मशीनो का जमघट लगना शुरू हो गया है
जहाँ पर पोकलैंड मशीने माँ कलिंदनी का सीना चीरने के लिए बिल्कुल तैयार खड़ी है मशीनो से नदियो का सीना छल्ली करना नदियो के भूगोल बदलने के साथ उनको इतिहास बनाने का कार्य कर सकता है देश के प्रधान गंगापुत्र हो या सूबे के महंत मुख्यमंत्री अगर समय रहते इस पर ना चेता गया तो अवश्य ही 2019 मे जनता चेतने पर मजबूर हो जाएगी।।

अभी से शाशन की कलाई को दिखा रहा है यमुना के किनारे कड़ी पोप्लेन की कितना दम है योगी सरकार के कानून बेवस्था को जिससे किसी अधिकारी का डर नहीं है