Breaking News देश राज्य होम

प्लाट देने के नाम पर लाखों की ठगी

प्लाट देने के नाम पर लाखों की ठगी
 पीड़ित की शिकायत पर वॉलनट इंफ्राटेक प्रा.लि. कंपनी के डायरैक्ट व वाइस प्रेजिडेंट के खिलाफ मामला दर्ज
– पुलिस ने यह मामला अदालत के आदेश के बाद किया दर्ज
रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24गुरुग्राम। सदर थाना एरिया अंतर्गत एक कंपनी पर प्रोजैक्ट में प्लॉट देने के नाम पर ठगी करने का आरोप लगा है। एक व्यक्ति ने कंपनी पर आरोप लगाया है कि कंपनी के अधिकारियों ने प्रोजैक्ट में प्लॉट देने का आश्वासन दिया लेकिन अभी तक न तो प्रोजैक्ट तैयार हुआ और न ही उसे प्लॉट ही मिला। हालांकि पहले पीड़ित ने पुलिस में शिकायत दी थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होने पर पीड़ित ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। आखिरकार कोर्ट के आदेश पर सदर थाना पुलिस ने शनिवार को कंपनी के डायरैक्ट व वाइस प्रेजिडेंट के खिलाफ धोखाधड़ी व अमानत में खयानत का मामला दर्ज किया है। अब पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। हालांकि यह मामला करीब 6 साल पुराना है। 

जानकारी के अनुसार सुनील शर्मा शहर के सैक्टर-14 में रहते हैं। अपनी शिकायत में उन्होंने बताया है कि साल 2012 में उन्होंने सदर थाना एरिया के सैक्टर-47 स्थित वॉलनट इंफ्राटेक प्रा.लि. कंपनी के आॅफिस में प्लॉट के संबंध में संपर्क किया था। कंपनी के अधिकृत लोगों ने बताया कि कंपनी का एराइवल सिटी के नाम से एक प्रोजैक्ट बन रहा है जिसमें आसान कीमतों में प्लॉट मिल जाएगा। पीड़ित के अनुसार, उसने प्लॉट के लिए तीन बार में 3.72 लाख रुपए कंपनी को दिए।
बाद में जब पीड़ित ने प्रोजैक्ट के बाबत पता किया तो वहां पर किसी प्रकार का प्रोजैक्ट शुरू नहीं हुआ था। पीड़ित का आरोप है कि कई साल बीतने के बाद भी कंपनी का प्रोजैक्ट शुरू नहीं हुआ तो उसने अपने पैसे मांगे लेकिन कंपनी ने उसके पैसे नहीं लौटाए। इसके बाद उसने पुलिस में इसकी शिकायत दी पर वहां भी कार्रवाई नहीं हुआ। आखिरकार पीड़ित ने अदालत का दरवाजा खटखटाया जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर सदर थाना पुलिस ने कंपनी के डायरेक्टर कुनाल पुरी और वाइस प्रेजिडेंट मोहित के खिलाफ संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर लिया।