Breaking News देश राज्य होम

समय पर काम शुरू नहीं किया जो नपेंगे ठेकेदार, अधिकारियों पर भी गिरेगी गाज

समय पर काम शुरू नहीं किया जो नपेंगे ठेकेदार, अधिकारियों पर भी गिरेगी गाज
-नगर निगम आयुक्त ने जारी किये हैं यह आदेश
-निर्माण कार्यों में कोताही बरतने की शिकायतों पर लिया संज्ञान
-बीते दिनों गुरुग्राम के विधायक ने भी एक ठेकेदार के खिलाफ की थी शिकायत

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम। सरकारी कार्यों को अधिकारियों के साथ सेटिंग करके कार्यों में लापरवाही बरतने, भ्रष्टाचार करने के मामलों में ठेकेदारों पर शिकंजा कसा जा रहा है। किसी भी कार्य के निर्माण में बेवजह देरी करने या फिर काम को गंभीरता से नहीं करने वाले ठेकेदारों, निर्माण एजेंसी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। इस तरह के आदेश गुरुग्राम नगर निगम आयुक्त ने मंगलवार की देर रात को जारी किये हैं।
आदेशों में कहा गया है कि कार्य के अलॉटमेंट के 30 दिन के अंदर काम शुरू नहीं करने वाली ऐजेंसी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। उन्हें डिफाल्टर भी घोषित किया जायेगा। नगर निगम गुरुग्राम के आयुक्त विनय प्रताप सिंह द्वारा इंजीनियरिंग विंग को आदेश जारी किए गए हैं कि जिन एजेंसियों एवं ठेकेदारों को कार्य अलॉट किया हुआ है और जिन्होंने 30 दिन से कार्य शुरू नहीं किया है, उन्हें कार्य शुरू करने बारे नोटिस दें। नोटिस के बाद भी अगर 15 दिन में सम्बंधित एजेंसी या ठेकेदार द्वारा साइट पर कार्य शुरू नहीं किया जाता है तो उसके खिलाफ  एग्रीमेंट में शामिल शर्तों के तहत करवाई की जाए। साथ ही एजेंसी को ब्लैक लिस्ट करने की करवाई अमल में लाएं।
संबंधित अधिकारी के खिलाफ भी होगी कार्रवाई
आदेशों में कहा गया है कि अलॉटिड कार्य निर्धारित समयसीमा में पूरा किया जाना चाहिए। अगर नहीं होता है तो एग्रीमेंट में शामिल शर्तों के आधार पर करवाई की जाए। अगर देरी होने का कोई वैध कारण होगा तभी कार्य अवधि बढ़ाने बारे एग्रीमेंट समाप्त होने से पहले कार्रवाई की जाएगी। इन आदेशों की पालना दृढ़ता से की जाए तथा ढिलाई की सूरत में संबंधित अधिकारी के खिलाफ  भी कार्रवाई की जा सकती है।