Breaking News देश राज्य होम

संविधान दिवस पर आज देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए करेंगे बात

संविधान दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश को संबोधित करेंगे। यह कार्यक्रम दोपहर 12.30 बजे शुरू होगा। पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देश भर के भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। देश भर में भाजपा कार्यकर्ता भी पीएम का संबोधन सुनेंगे।

 

नई दिल्ली| संविधान दिवस के मौके पर आज पीएम मोदी देश को संबोधित करेंगे। यह कार्यक्रम दोपहर 12.30 बजे शुरू होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के सभी विधानसभा के सभापति व पीठासीन अधिकारियों को संबोधित करेंगे। देश के जिला तथा बूथ केन्द्रों पर पार्टी कार्यालयों में पार्टी कार्यकर्ता पीएम का उद्बोधन सुनेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र आज गुजरात के केवड़िया में अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन के 80वें वैदिक सत्र को सम्बोधित करेंगे। यह कार्यक्रम दोपहर 12.30 बजे शुरू होगा। यह पूरा कार्यक्रम वर्चुअल होगा। भाजपा के जिला एवं बूथ केंद्रों पर पार्टी कार्यकर्ता टेलीविजन, सोशल मीडिया के माध्यम से प्रधानमंत्री का संबोधन सुनेंगे।

देश भर में आज संविधान दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज गुजरात के केवड़िया में संविधान की उद्देशिका का वाचन करेंगे। इस कार्यक्रम में गुजरात में स्थित सभी कार्यालयों एवं शिक्षण संस्थाओं के अधिकारी-कर्मचारी शामिल हो सकते हैं।

देश मना रहा संविधान दिवस

भारत आज अपना संविधान दिवस(Constitution Day) मना रहा है। 26 नवंबर, 1949 को संविधान सभा ने औपचारिक रूप से भारत के संविधान को अपनाया था। देश में 26 जनवरी, 1950 को इसे लागू किया गया। 19 नवंबर, 2015 को सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने नागरिकों के बीच संविधान के मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाए जाने का फैसला लिया था।

जानें संविधान दिवस का महत्व

डॉ. भीम राव अम्बेडकर एक प्रसिद्ध समाज सुधारक, राजनीतिज्ञ और न्यायविद थे और उन्हें भारतीय संविधान का जनक भी कहा जाता है। उन्हें 29 अगस्त, 1948 को संविधान मसौदा समिति के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

क्या है भारत का संविधान ?

देश का संविधान, भारत सरकार के लिखित सिद्धांतों और उदाहरणों का समूह है जो मूलभूत, राजनीतिक सिद्धांतों, प्रक्रियाओं, अधिकारों, निर्देश सिद्धांतों, प्रतिबंझों और सरकार, देश के नागरिकों के कर्तव्यों को पूरा करता है।

WhatsApp chat