Breaking News देश राज्य होम

वाह…गुरुग्राम में 100 प्लाज्मा में से 55 कैनविन फाउंडेशन के कराए डोनेट

वाह…गुरुग्राम में 100 प्लाज्मा में से 55 कैनविन फाउंडेशन के कराए डोनेट
-कोरोना महामारी काल में दिल-जान से जुटी है कैनविन फाउंडेशन

-प्लाज्मा डोनेट कराने को लोगों को घर से लाते व छोड़कर आते हैं वॉलंटियर

गुरुग्राम। कैनविन…। इस नाम की संस्था आज गुरुग्राम में सबकी जुबां पर है। यह इसलिए कि संस्था ने कोरोना महामारी में लॉकडाउन से लेकर अब तक समाजसेवा में अग्रणी भूमिका निभाई है। बात करें कोरोना पॉजिटिव मरीजों को प्लाज्मा डोनेट कराने की तो जिले में अब तक कुल 100 प्लाज्मा डोनेट हुए हैं और इनमें से 55 प्लाज्मा अकेले कैनविन फाउंडेशन ने दिन-रात एक करके डोनेट कराए हैं। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने कैनविन के काम को काफी सराहा है।
कैनविन फाउंडेशन के सह-संस्थापक एवं बीजेपी जिला सचिव नवीन गोयल के मुताबिक कोरोना महामारी में हर आम और खास के लिए संस्था ने राहत पहुंचाने का काम किया है। जैसे ही कोरोना से ठीक हुए लोगों के प्लाज्मा डोनेट कराने को यहां प्लाज्मा डोनेट सेंटर शुरू किया गया, कैनविन की पूरी टीम इस काम में जुट गई। पहले ही दिन 4 प्लाज्मा डोनेट कराकर 8 कोरोना पॉजिटिव मरीजों को राहत पहुंचाने का काम किया। क्योंकि एक व्यक्ति द्वारा डोनेट किया हुआ प्लाज्मा दो कोरोना संक्रमितों को लगाया जाता है। उन्होंने बताया कि प्लाज्मा डोनेट कराने को कैनविन फाउंडेशन ने जिले में व्यापक पैमाने पर जागरुकता के लिए प्रचार भी किया है। शहर में फ्लैक्स, सोशल मीडिया के जरिए जागरुक किया है, ताकि अधिक से अधिक लोग प्लाज्मा डोनेट करें। उन्होंने बताया कि प्लाज्मा डोनेट करने वालों को संस्था ने गाड़ी की सुविधा उपलब्ध कराई है। यानी कोरोना से ठीक हुए लोगों का कोरोना डोनेट कराने को उन्हें कैनविन फाउंडेशन की टीम अपनी गाड़ी में लेकर आती है और डोनेशन के बाद उन्हें वापस सकुशल घर तक पहुंचाती है। इस सुविधा के बाद लोगों में प्लाज्मा डोनेट करने के लिए जागरूकता आई है।
जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने भी कैनविन फाउंडेशन के साथ मिलकर प्लाज्मा डोनेशन का अभियान चलाया है। जिला उपायुक्त अमित खत्री और सिविल सर्जन डा. विरेंद्र यादव भी संस्था के क्रियाकलापों को सार्वजनिक रूप से सराहना कर चुके हैं। अधिकारियों ने संस्था के काम का बारीकी से मूल्यांकन किया है।