Breaking News देश राज्य होम

लालगंज रायबरेली – रेल बचाओ देश बचाओ के नारों के साथ एमसीएफ संयुक्त संघर्ष समिति ने निगमीकरण का किया जोरदार विरोध

रेल बचाओ देश बचाओ के नारों के साथ एमसीएफ संयुक्त संघर्ष समिति ने निगमीकरण का किया जोरदार विरोध

एमसीएफ बचाओ संयुक्त संघर्ष समिति के पदाधिकारी आदर्श सिंह बघेल ने बताया कि सभी केन्दीय श्रमिक संघठनो फेडरेशनों और संघो के आवाहन पर आज 9 अगस्त 2020 को अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन की ऐतिहासिक वर्षगांठ पर एमसीएफ संयुक्त संघर्ष समिति के द्वारा भारत सरकार की निगमीकरण निजीकरण की नीतियों के खिलाफ रेल बचाओ देश बचाओ के नारों के साथ सोशल डिस्टनसिंग के साथ जोरदार विरोध प्रदर्शन किया गया जिसमें संगठनों के नेताओं ने एकसुर मे एमसीएफ को निगमीकरण से बचाने के लिए लिए हुंकार भरी।एमसीएफ बचाओ सयुक्त संघर्ष समिति के पदाधिकारी हरिकेश ने कहा कि हम सभी संगठन एवम एसोसिएशन एक काले झण्डे के नीचे रहकर 21 जून 2019 से अभी तक लगातार निगमीकरण का विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। हम सभी ने जैसे पहले भी कहा था कि जब तक एमसीएफ का निगमीकरण नही रद्द किया जाएगा तब तक हम जोरदार विरोध प्रदर्शन करते रहेंगे।
समित्ति के नेता सुशील गुप्ता ने कहा कि हम लोग 21 जून 2019 से लगातार विरोध प्रदर्सन कर रहे है लेकिन सरकार औऱ रेलवे बोर्ड के कान पर जू तक नही रेंग रही है। समिति के पदाधिकारी सुभाष मीणा ने कहा हम सभी निगमीकरण के मानसिक तनावग्रस्त माहौल में भी रिकॉर्ड उत्पादन कर रहे मैं रेलवे बोर्ड एवम केंद्र सरकार से पूछना चाहता हूं फिर इस फैक्ट्री का निगमीकरण क्यों किया जा रहा है। समिति के पदाधिकारी प्रवीण तिवारी ने कहा कि ये सरकार इस कॅरोना काल के समय जहाँ सभी के रोजगार चले गए सभी इस वैश्विक महामारी से परेशान है इस समय का ये सरकार फायदा उठाकर हर क्षेत्र में निजीकरण एवम निगमीकरण करने पर मस्त है ये सरकार भूल गयी है इस देश ने जहाँ अग्रेजो के छक्के छुड़ा कर उन्हें इस देश से भगा दिया तो ये सरकार तो बहुत छोटी चीज है मैं इस सरकार से कहेना चाहता हूं कि वो प्रोडक्शन यूनिटों का निगमीकरण एवम निजीकरण सरकार न करें
इस अवसर पर आदर्श सिंह बघेल मनोज ओझा आशीष कुमार सचिन गुप्ता हरिकेश रामकिशोर पाल देवनाथ निर्मल सुभाष मीणा सुनील तिवारी प्रवीण तिवारी अजय सिंह सहित सैकड़ों कर्मचारियों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए आज के विरोध प्रदर्शन में शामिल रहे