Breaking News देश राज्य होम

लखीमपुर-खीरी। एक अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक चलेगा अभियान, ज़ूम मीटिंग के माध्यम से दी गई दस्तक और विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान की ट्रेनिंग।

लखीमपुर-खीरी।

एक अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक चलेगा अभियान,

ज़ूम मीटिंग के माध्यम से दी गई दस्तक और विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान की ट्रेनिंग।

ईसानगर/खमरिया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खमरिया/ ईसानगर के अधीक्षक डॉ0 बी0 के0 स्नेही ने बताया कि आज स्वास्थ्य महानिदेशालय विभाग उत्तर प्रदेश ,यूनिसेफ और पाथ संस्था के संयुक्त माध्यम से हिकोली मेडम सचिव उत्तर प्रदेश सरकार की उपस्थिति में अगले माह 1 से 31अक्टूबर तक होने जा रहे दस्तक और विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के लिए जिले और ब्लॉक स्तरीय प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण आयोजित किया गया,मैं भी इसमे शामिल रहा । ये अभियान सभी 75 जिलों में चलेगा।आधे जिलों में ट्रेनिंग आज दी गई और आधे जिलों में कल ट्रेनिंग दी जाएगी ।इसके माध्यम से जिले और ब्लॉक स्तरीय प्रशिक्षक तैयार हो गए हैं।ये सब अब अपने अपने ब्लॉक में फ्रंट लाइन वर्कर्स की ट्रेनिंग कराएंगे।।दस्तक और संचारी रोग अभियान के माध्यम से संचारी रोंगो में भारी कमी आई है और इनके द्वारा हो रही मौतों में भी कमी आई है।ये साल का तीसरा अभियान है। इसके पहिले जुलाई माह में ये अभियान चला था।संचारी रोग में बुखार,मलेरिया, दिमागी बुखार ,जे ई ,चिकन गुनिया, डेंगू ,फाइलेरिया ,टिक टायफस आदि शामिल हैं।इस बार इस अभियान में कोरोना की जांच भी की जाएगी और सर्वे कार्य भी होगा बच्चों के टीकाकरण के बारे में व बुख़ार के मरीजों को चिन्हित किया जाएगा और उनकी मलेरिया ,डेंगू,आदि की जांच की जाएगी।बुख़ार के साथ खांसी और स्वांस की दिक्कत होने पर उनकी कोरोना जांच भी कराई जायेगी।आशाओं ,ऑगनबाड़ी कार्यकत्रियो के माध्यम से घर घर दस्तक दी जाएगी।विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान में वेक्टर बोर्न जे 0डी0 डॉ 0 विकासिन्दू अग्रवाल और जे डी डॉ विकास सिंघल तथा डॉ कपूर द्वारा सभी को ट्रेनिंग दी गई।इसका मुख्य उद्देश्य संचारी रोगों की रोकथाम ,साफ सफाई आदि है।इसमें स्वास्थ्य विभाग नोडल विभाग होगा बाकी अन्य 17 डिपार्टमेंट इसमे सहयोग करेंगे जिसमे महिला बाल विकास, शिक्षा,पंचायती राज,जल निगम, कृषि विभाग ,नगरपालिका, नगर निगम, सूचना प्रसारण आदि है।30 सितम्बर तक समस्त ट्रेनिंग और मिक्रोप्लानिंग एवं मीटिंग करना अनिवार्य होगा। इस अभियान में दिमागी बुखार ,जे ई का टीकाकरण भी किया जाएगा। इस बार की थीम है “बुखार में देरी पड़ेगी भारी”। इस बार भी कोविड गाइड लाइन का पालन करना होगा।मास्क लगाना अनिवार्य होगा। स्कूल के बच्चों द्वारा रैली नहीं निकाली जाएगी।बाकी सभी गतिविधियों को करना होगा। जिनमें माता मीटिंग , टीचर्स ,प्रधान मीटिंग आदि अनिवार्य होंगे।इस दौरान हफ्ते में एक दिन रविवार को सफाई अभियान भी चलेगा।इसमें छिड़काव,फाग्गिंग, सेनेटाइजर आदि कराया जाएगा।इस बार दस्तक अभियान 1 से 15 अक्टूबर तक चलेगा और 31 अक्टूबर तक संचारी रोग अभियान चलेगा इस ट्रेनिंग में मुख्य चिकित्साधिकारी ,अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी अधीक्षकों, बीपीएम,बीसीपीएम ,सीडीपीओ और बीईओ आदि ने प्रतिभाग किया।

(रिपोर्ट~अनुपम मिश्रा)