Breaking News देश राज्य होम

रायबरेली – मण्डलायुक्त मुकेश मेश्राम ने मोबाइल पर वार्ता करते हुए एक अधिकारी को लगाई कड़ी फटकार,

रायबरेली

मण्डलायुक्त मुकेश मेश्राम ने मोबाइल पर वार्ता करते हुए एक अधिकारी को लगाई कड़ी फटकार, जगह – जगह मियाबाकी फारेस्ट की करे स्थापना

अनिल कुमार
इंडिया नाऊ 24
रायबरेली

रायबरेली ।। 17 जून, 2020
जनपद के नोडल अधिकारी व मण्डलायुक्त मुकेश मेश्राम ने बचत भवन के सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये कि कोविड-19 कोरोना वायरस से समुचित बचाव व सुरक्षा के साथ विकास व निर्माण कार्यो को अपेक्षित गति दें। उन्हांने कहा कि कोरोना भी अन्य बिमारियों जैसे टाइफाइड, मधुमेह, कैसर, एचआईवी, हाइपर टेशन आदि बीमारियों की भांति है सरकार द्वारा कोरेना से बचाव व सुरक्षा के समुचित उपाय बता दिये गये है। कोरोना से बचाव सुरक्षा के स्वय उपाय कर आगे बढ़े। उन्होंने कहा कि आमजन का सरकारी तंत्र पर पहले अधिक विश्वास बड़ा है आमजन द्वारा कोरोना योद्धा आदि से सम्मानित भी किया गया है जिसे बनाये रखना है। उन्होंने सीएनडीसी के अधिकारी को बैठक में लगातार मोबाइल के माध्यम से वार्ता करते पर गम्भीरता से लेते हुए उसे कड़ी फटाकर लगाई तथा चेताया कि भविष्य में बैठक आदि में इस तरह के कृत्य न करे। महत्वपूर्ण बैठक है यदि कोई अति आवश्यक काल है तो बाहर जाकर वार्ता की जा सकती है।
मण्डलायुक्त ने कहा कि रचनात्मक सरकारात्मक सोच को बढ़ाने के साथ ही अच्छे विचारों के साथ अच्छी शैली व रचनात्मक सकारात्मक कार्यो में वृद्धि लाये। देश, प्रदेश जनपद आर्थिक संकट से उबारने के लिये हमे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के साथ-साथ सरकार के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करते हुए सरकारी कार्यो में सोशल डिस्टेसिंग बनाते हुए, मास्क का प्रयोग करते हुए गति देनी होगी। निर्माण व विकास कार्य जो रूके उनको गति दें जो भी कार्य करे उसमें गुणवत्ता व मानक में किसी भी प्रकार की शिथिलता व लापरवाही क्षम्य नही होगी। मण्डलायुक्त ने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 संजय कुमार शर्मा को निर्देश दिये कि समस्त सीएचसी/पीएचसी रक्षक दवाओं की उपलब्धता को बनाये रखने के साथ ही डिलीवरी, आपरेशन, डायलेजिस, ओ0पी0डी0 के कार्यो को बेहतर कराये। इसके अलावा निजी अस्पतालों में भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव व सुरक्षा के साथ ही मरीजों के इलाज करवाया जाना सुनिश्चित करें। यह भी देखले यदि किसी भी प्रकार कोरोना के मरीज बढ़ते है तो उनके क्वारंटाइन व इलाज की व्यवस्था भी सुदृढ रहे। उन्होंने सीएमओं को निर्देश दिये कि नार्मल रूटीन के कार्यो में गति मिले जिन अस्पतालों में आपरेशन, डिलीविरी मरीज को देखने की संख्या कम है उन्हें चेतावनी देकर उनके कार्यो में गति बढ़वाये। बरसात का मौसम है संक्रमण न फैले इसके भी पुख्ता इंतेजाम रहे। जे0एस0वाई में जिन लाभार्थियों का पैसा नही मिला है तथा आशाओं का मानदेय लम्बित है उसका तत्काल भुगतान कराये। उन्होंने कहा कि जेई व अन्य टीकाकरण, संस्थागत प्रसव का प्रतिशत को बढ़वाये। इसके अलावा कोरोना के कार्यकाल में स्वास्थ्य की सभी सेवाये पूरी तरह से सुदृढ रहें। सलोन सीएचसी का कार्य काफी समय से लम्बित है इसे ठीक कराकर 30 जून तक प्रत्येक दशा में पूर्ण करे। सघन वृक्षारोपण की तैयारियों के साथ ही जगह-जगह मियाबाकी फारेस्ट की भी स्थापना करें तथा जनपद व प्रदेश में वननीति के अनुसार 33 प्रतिशत वृक्षों की बढ़ोती कर मानव जीवन को जीने लायक बनाये।
मण्डलायुक्त ने बीएसए को निर्देश दिये कि जहां बाउंड्री नही है वहां बाउंड्री बनवाये के साथ-साथ किचन गार्डेन में सैजन, केला, कड़ी पत्ता, नीबू आदि के वृक्षो का रोपण करवाये। अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत अपने-अपने क्षेत्रों में अभियान के तहत साफ-सफाई व्यवस्थाओ को दुरूस्त रखे। इसके अलावा नगर पालिका/नगर पंचायतों में मियावाकी फारेस्ट की स्थापना भी करे। पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि गौशालाओं को तैयार कर उनमें घनजीवा अमृत तैयार करवाये जो कि बंजर भूमि व फसलों के लिए लाभदायक होता है। मण्डलायुक्त ने समस्त एसडीएम को निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्रों के तालाब, चकरोड की लिस्ट खण्ड विकास अधिकारियों को मुहैया करवा दें। 1356 फसली तालाबों को खोजे तथा उनका सर्वे करवाये। गरीब व्यक्तियों को छोड़कर जिन्होंने तालाबो पर कब्जा कर लिया है उन्हेंं हटवा दिया जाये। जिसपर आवास न हो उसको मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री आवास योजनान्तर्गत आवास आवंटन करने की कार्यवाही नियामानुसार की जाये। तालाबो का जीर्णोद्वार, पुनरोद्वार कराये। जहां-जहां पानी का वाटर लेबेल कम है वहां तालाब तैयार करकार रिकार्ड में दर्ज कराये। प्रवासी मजदूर गांव-गांव में पहुचे है एक वाद-विवाद रजिस्टर बनवाये तथा जो भी समस्याए हो उनका निस्तारण भी करते रहे। उन्होंने इससे पूर्व पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये कि जनपद में कानून एवं शान्ति व्यवस्था को दुरूस्त रखने के साथ ही अपराधों में कमी लाने के साथ ही अपराधियों व असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखते हुए कार्यवाही भी करते रहे। इस मौके पर अन्य बिन्दुओं पर भी चर्चा की गई।

इस मौके पर जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना व मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल ने जनपद के विकास कार्यो व कोरोना वायरस के संक्रमण एवं अन्य बिन्दुओ पर विस्तार पूर्वक चर्चा की तथा समस्त जानकारी मण्डलायुक्त को दे।