Breaking News आर्टिकल देश राज्य होम

मीरजापुर – जल निकासी न होने से करीब 15 बीघा खेत हुआ जलमग्न , कुछ घरों में भी घुसा पानी, पानी लोगों के लिए बना मुसीबत।

जल निकासी न होने से करीब 15 बीघा खेत हुआ जलमग्न , कुछ घरों में भी घुसा पानी, पानी लोगों के लिए बना मुसीबत।

अतुल कुमार सिंह
ब्यूरो चीफ मीरजापुर
इण्डिया नाऊ24

कैलहट(मीरजापुर)।  मीरजापुरऔर रामनगर NH 7 चौड़ीकरण में बरसात के पानी के निकासी के लिए बनाये गये कैलहट पचेवरा सरहद पर बने पुलिया को डी. बी. एल. कम्पनी के द्वारा मिट्टी से बंद कर देने से जल निकासी न होने के कारण बरसात का पानी भरने से पन्द्रह एकड़ खेत जलमग्न हो गया हैं और NH7 के किनारे पानी जमा होने से आस पास बने शिव नारायण सिंह, अजीत सिंह, शिवम् सिंह के अलावा अन्य लोगों के मकान गिरने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता हैं, कुछ दिन पहले शेरपुर कोलउंद गांव में तीन मंजिला इमारत ढह गया था,

 इससे क्षेत्र की जनता ने शासन प्रसासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मांग की हैं कि शासन प्रसासन के द्वारा जल निकासी की व्यवस्था की जाय, ताकि खेतों में बुआई जोताई हो सकें और जल भराव होने से लोगों को आने जाने के लिए बनाए गए चकरोड पर दो फीट तक पानी भरा हुआ है बन्द पुलिया को खोल देने पर पानी निकासी हो जाने से आने जाने में निजात मिलें, वहीं अगर पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं की गई तो मकान भी गिर सकती हैं बड़ा हादसा हो सकता है।