देश राजनीती राज्य होम

मंडियों तक आने वाले किसानों को राहत देने के लिए सड़कों का जाल बिछाने की कार्ययोजना तैयार की गई है

बहराइच ब्रेकिंग न्यूज

जनपद बहराइच के मंडियों तक आने वाले किसानों को राहत देने के लिए सड़कों का जाल बिछाने की कार्ययोजना तैयार की गई है। मिहींपुरवा के जंगली इलाकों से लेकर अन्य क्षेत्रों में सड़कों का निर्माण किया जाएगा।

शासन से करीब 12 सड़कों के निर्माण को हरी झंडी मिल गई है। इस पर करीब दो करोड़ रुपये खर्च होंगे। मंडी परिषद को बजट जारी कर दिया गया है।

बरसात से पहले निर्माण कार्य को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस पर काम भी शुरू कर दिया गया है। किसानों को उनकी उपज का मूल्य दिलाने और उनकी आय को दोगुना करने की दिशा में सरकार काम कर रही है।

सरकार ने मंडियों को सड़कों को जोड़ने के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए थे। सरकार के निर्देश के बाद मंडी परिषद ने गल्ला और सब्जी मंडियों को जाने वाली सड़कों का सर्वे कराया था।

जिसमें मिहींपुरवा के जंगली इलाके के गूढ़ चौराहा से हरखापुर गांव होते हुए पृथ्वीपुरवा जाने वाले मार्ग अहिरौरा गांव, खुटेहना चौराहे से गिलौला जाने वाले मार्ग, खैरा हसन से मोहनापुर होते हुए मझौवा बुजुर्ग मार्ग, मल्हीपुर से बरई बिलासा मार्ग, कायमपुर मार्ग, फखरपुर से बौंडी मुख्य मार्ग से होकर मजरा तेलम को जोड़ने वाले मार्ग, मनिहारपुरवा मार्ग, विश्रामगांव मार्ग, गंगापुरवा, खैरहनिया मोतीपुरवा मार्ग और अलादादपुर संपर्क मार्ग के जर्जर होने पर उसके निर्माण की कार्ययोजना बनाई गई थी।

लगभग एक करोड़ 78 लाख रुपये से मार्ग निर्माण किए जाने का प्रस्ताव भेजा गया था। मंडी परिषद द्वारा भेजे प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए सरकार ने बजट जारी कर दिया है। इस पर निर्माण की कवायद तेज कर दी गई है।

बरसात से पहले होगा निर्माण
मंडियों तक किसानों को पहुंचने के लिए सुलभ मार्ग उपलब्ध कराने के तहत मार्ग निर्माण किया जाना है। जिसके लिए बजट मिल गया है। बरसात से पहले निर्माण पूरा करने का प्रयास किया जाएगा ।
रिपोर्ट – इंडिया नाउ 24 राहुल कुमार गौतम जिला संवाददाता बहराइच ।