Breaking News देश राज्य होम

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी तमाड़ प्रखंड की सड़कें, जांच कर दोषियों पर हो कारवाई- नीतीश पांडे।

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी तमाड़ प्रखंड की सड़कें, जांच कर दोषियों पर हो कारवाई- नीतीश पांडे।

चन्दन कुमार गुप्ता
डिस्ट्रिक्ट रिपोर्टर इंडिया नाऊ 24
रांची झारखंड.

राँची/तमाड़- जहाँ सड़क बने दो वर्ष भी नही हुए की सड़क में बिखरी गिट्टियां व सड़क में हुए बड़े बड़े गड्ढे सड़क निर्माण कार्य में हुई अनियमितता की पोल खोल रहे है।मामला तमाड़ प्रखंड के ग्राम सारजमडीह से अचूडीह बैसनाडीह पर बने सड़क की है।यहाँ सड़क निर्माण कार्य में गुणवत्ता मापदंडों की अनदेखी की गई हैं।जिससे ग्रामीणों में खासा आक्रोश है।इस सम्बंध में तमाड़ विधानसभा युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नीतीश पांडे ने बुधवार को ग्रामीण विकास मंत्री श्री आलमगीर आलम के नाम सड़क निर्माण में हुई भारी अनियमितता को लेकर अनुमंडल पदाधिकारी बुंडू को लिखित ज्ञापन सौपा।

श्री पांडे ने बताया कि सड़क बनने के डेढ़ से दो वर्ष के अंदर ही रोड़ जगह जगह उखड़ के खत्म हो गये हैं।और जगह जगह गड्ढे हो गए है। अचूडीह से बैसनडीह लगभग डेढ़ किलोमीटर सड़क एक दिन में बनाया गया था।जो नियम संगत नही है। कुछ जगहों पर संवेदक की गलती से पानी की निकासी सही से न होने के कारण रोड़ में कीचड़ हो गयी है।जिससे मक्खी मच्छर उत्पन्न हो रहे है। कीचड़ जमा होने से राहगीरो को सड़क पर चलना काफी मुश्किल हो गया है।

कीचड़ भरे गड्डों में गुम हो गया रोड:-

उन्होंने बताया कि आलम यह है कि इस मार्ग पर वाहन लेकर गुजरना या पैदल चलना पूरी तरह से दुश्वार है। गंदे पानी और कीचड़ से भरे गड्डों में रोड का अस्तित्व गुम हो चुका है। छोटे-बड़े वाहन लेकर यहां से गुजरने में हालात खराब हो जाती है। तमाड़ विधानसभा युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नीतीश पांडे ने भ्रष्टाचार की भेंट चढ़े इस रोड के लिए जांच कर दोषियों को करवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि बेहद घटिया तरीके से निर्माण कराये गए इस सड़क निर्माण की जांच कराई जानी चाहिए।और दोषियों के अनुज्ञप्ति को रद्द करते हुए काली सूची में डाला जाए।