Breaking News देश राजनीती राज्य होम

भारत में ही पल रहे पाकिस्तान को कुचलना होगा: अजय

भारत में ही पल रहे पाकिस्तान को कुचलना होगा: अजय

सहारा मॉल पर हर आंख गीली,पुलवामा शहीदों को दी श्रद्धांजलि
हमले का सच और सरपस्तों को जानना चाहते हैं देश के निवासी

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम। महरौली रोड स्थित सहारा माल के बाहर पुलवामा में शहीद हुए सपूतों को उपस्थित शहर के लोगों ने मन में आक्रोष लिये एवं अश्रुपूर्ण नेत्रों से श्रद्धांजलि दी  और सरकार से कठोरतम  कार्यवाही की अपील की है । दिल्ली महरौली रोड स्थित सहारा माल के बाहर  लोगो ने श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया । जिसमें हरियाणा कला परिषद के पूर्व निदेशक अजय सिंहल ने कहा कि यह हमला संपूर्ण देशवासियों के सम्मान पर हमला है। केवल सत्ता पर आश्रित रहने से इस प्रकार की मानसिकता से नहीं निपटा जा सकता। सरकार अपना काम करेगी और हमें अपना काम करना होगा। इस समस्या का समाधान तभी होगा जब हम अपने आसपास पल रहे देशद्रोही मानसिकता के पाकिस्तान को समझेंगे। जिस आतंकवादी ने इस घटना को अंजाम दिया वह कश्मीर का ही रहने वाला था। इस तरह की घटनाएं देश के अन्य हिस्सों में भी हो सकती हैं। अत: हमें सतर्क रहना होगा। श्रद्धांजलि सभा में राव रणधीर सिंह, राजीव मित्तल , डॉ. इंदु राव , यशवंत शेखावत,, जय वीर आर्य, लाडो कटारिया, राम बहादुर सिंह, सुनील त्यागी, विक्रम शर्मा, मनीष चतुर्वेदी, दिनेश राघव आदि ने अपने विचार रखे। सभा मे मोमबत्तियां जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। जहां हुए बलिदान मुखर्जी वह कश्मीर हमारा है, रावलपिंडी दूर नहीं गद्दारों की खैर नहीं, वीर शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने देंगे, जनता में आक्रोश है दुश्मन मारो जोश है, देश के गद्दारों को गोली मारो सारो को, नारों से सारा माहौल गुंजायमान हो रहा था।  श्रद्धांजलि सभा में पावनी जायसवाल,विजेता मलिक, पूनम भटनागर,ज्योति डेमला,मीनाक्षी सक्सेना, मंजू अरोरा,दिनेश राघव, देवेंद्र नेगी, श्रीप्रकाश राय, संत कुमार  मदन सोनी, वेद सैनी,  अमित हिंदू,प्रवीन कुमार ,मंजीत कटारिया आदि उपस्थित रहे।
सरकार पुलवामा हमले को गंभीरता से ले
नव जन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ट कुमार गोयल ने कहा कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले की कार्यवाही पूर्णताया सुनियोजित थी, जिसके कारणों की छानबीन जल्दबाजी की जगह पूरी गंभीरता और बारीकी के साथ  होनी चाहिए। गोयल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय कानूनों के तहत भारत को आतंकवादी देश पाकिस्तान के साथ अपने आगे के राजनयिक रिश्तों पर भी गंभीरता और आक्रमकता से विचार करने की जरूरत है। पाकिस्तान से अब बार बार याचना करने का समय खत्म होना चाहिए और हमें उसकी ईंट का जवाब पत्थर से देना होगा। गोयल ने कहा इतना बड़ा काफिला कभी भी अलक्षित नहीं हो सकता, क्यूँकि जिस सटीक ढंग से अंजाम दिया  गया है उस से लगता है कि आतंकवादियों को इस फौजी काफले के मूवमेंट की खबर  पहले से थी।  जिसने आतंकियों को आत्मघाती वाहन और हमलावर को तैयार करने का पूरा मौका दे दिया। आतंकवादियों ने विस्फोटक कहाँ से और कैसे हासिल किये,इसकी  पड़ताल भी बहुत बारीकी से होनी चाहिए।
प्रायोजित आतंकवाद पाक को पडग़ा भारी
विधायक उमेश अग्रवाल ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सी.आर.पी.एफ. जवानों पर किये गये हमले की कड़ी निंदा की है और शहीदों के परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। अग्रवाल ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में देश का प्रत्येक नागरिक शहीद सैनिकों के परिवारों के साथ है। उन्होंने कहा कि इस घटना में प्रशासनिक स्तर पर यदि कोई चूक हुई है तो उसकी केन्द्र सरकार जांच करा रही है। केन्द्रीय गृहमंत्री  राजनाथ सिंह स्वयं घटनास्थल का दौरा किया है और उन्होंने उच्चाधिकारियों से भी बातचीत की ।  विधायक उमेश अग्रवाल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में प्रायोजित आतंकवाद के लिए पाकिस्तान को निश्चय ही खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार आतंकवाद व आतंकवाद को पोषित करने वालों के खिलाफ शीघ्र ही कठोर कदम उठाएगी। इसका सभी देशवासियों को विश्वास है।