Breaking News देश राज्य होम

फरीदाबाद – समाजसेवी हर प्रकार से जिला प्रशासन मैं सरकार की मदद के लिए तत्पर रहे हैं

फरीदाबाद समाजसेवी हर प्रकार से जिला प्रशासन मैं सरकार की मदद के लिए तत्पर रहे हैं

रिपोर्टर मधु खत्री फरीदाबाद  India now24

फरीदाबाद, उपायुक्त यशपाल ने कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों में जिला के समाजसेवी हर प्रकार से जिला प्रशासन व सरकार की मदद को तत्पर रहे हैं। इसी कड़ी में डीएसवाई क्रिएशन की ओर से दो एंबुलेंस जिला प्रशासन को दी गई हैं। एक एंबुलेंस में सैंपल कलैक्शन की सुविधाएं भी इंस्टाल की गई हैं। दोनो एंबुलेंस कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज के लिए काफी मददगार साबित होंगी। उन्होंने डीएसवाई क्रिएशन कंपनी की इस पहल को सराहनीय बताते हुए कहा कि बहुत सी संस्थाओं व समाजसेवी लोग जिला प्रशासन को निरंतर सहयोग व मदद उपलब्ध करवाई है तथा भविष्य में भी कोई संस्था या समाजसेवी इस प्रकार की मदद को आगे आना चाहता है तो जिला प्रशासन उसका स्वागत करता है। अगर कोई व्यक्ति वालिंटियर बनकर कार्य करना चाहता है तो जिला प्रशासन उसका भी स्वागत करता है। उन्होंने कहा कि सिर्फ पैसे से ही नहीं, अपितु श्रमदान करके भी मदद की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रति अभी लोगों में डर कम हुआ है और वह धीरे-धीरे जागरूक भी हुए हैं। लोगों को कुछ विशेष सावधानी अवश्य बरतनी चाहिएं, जिसके लिए जिला प्रशासन की ओर से निरंतर लोगों से अपील की जा रही है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग, घर से बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग, हाथों की बार-बार सफाई, हाथों से नाक व मुंह को न छुना, कार्यस्थलों पर सरकार की गाइडलाइन अनुसार कार्य करें। कोरोना के अधिकतर मामले जल्दी ठीक भी हो रहे हैं तथा उन्हें अस्पताल जाने की भी आवश्यकता नहीं हो रही। उन्होंने कहा कि बुजुर्ग व्यक्ति या पहले से किसी अन्य बीमारी से पीड़ित व्यक्ति का अधिक ध्यान रखने की आवश्यकता है। सेक्टर-59, बल्लभगढ़ स्थित डीएसवाई क्रिएशन के चेयरमैन अजय यादव ने बताया कि कंपनी की ओर से जिला प्रशासन को दो टेस्टिंग वैन कम एम्बुलेंस और एम्बुलेंस फॉर कोरोना दी गई हैं, जोकि कोविड टेस्ट आदि सारी सुविधाओं से युक्त हैं। ये एंबुलेंस आज सोमवार को उपायुक्त यशपाल यादव को उनके कैम्प ऑफिस में सौंपी गई। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन को सौंपी गई इन दोनों एम्बुलेंस का ड्राइवर, रखरखाव, डीजल आदि का सारा खर्चा कंपनी द्वारा ही वहन किया जाएगा।