Breaking News खेल देश राज्य होम

पांच हजार रूपए ईनामी ऑल इंडिया ऑनलाइन शतरंज स्पर्धा 26 जुलाई से,

पांच हजार रूपए ईनामी ऑल इंडिया ऑनलाइन शतरंज स्पर्धा 26 जुलाई से,

देश के सभी राज्यों के खिलाडिय़ों का प्रवेश नि:शुल्क,

इंटरनेशनल व नेशनल खिलाड़ी को चाहिए नगद पुरस्कार तो 15 अगस्त तक करें आवेदन,

ब्यूरो चीफ योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम । हरियाणा शतरंज एसोसिएशन (एचसीए) के स्वस्थ, उज्जवल, नवीन और सुरक्षित शतरंज की स्थापना मिशन के तहत एचसीए चेकमेट कोरोना वायरस पांच हजार रूपए ईनामी राशि ऑल इंडिया ऑनलाइन शतरंज चैंपियनशिप 26 जुलाई से आयोजित की जाएगी। इसमें देश के सभी राज्यों के खिलाडियों का प्रवेश नि:शुल्क किया जाएगा। इसके लिए एचसीए वाट्सएप नंबर 98129 20931 पर नि:शुल्क रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही है। चैंपियनशिप की पूरी जानकारी एचसीए की वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इंडियनचेस डॉट ओआरजी पर देखी जा सकती हैं। इस चैंपियनशिप के जरिये देश से हजारों खिलाड़ी एक-साथ ऑनलाइन शतरंज की बिसात पर खेलकर कोरोना महामारी को मात देंगे।

खिलाडिय़ों से उपलब्धियों के आधार पर पुरस्कार के लिए 15 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित –
राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में पदक विजेता प्रतिभागी खिलाडियों के 1 जनवरी, 2019 से 31 मार्च, 2020 तक की अवधि की खेल उपलब्ध्यिों के आधार पर नगद पुरस्कार के लिए आवेदन-पत्र आमंत्रित किए गए हैं। इंटरनेशनल व नेशनल खिलाड़ी को नगद पुरस्कार चाहिये तो 15 अगस्त तक डीएसओ कार्यालय में आवेदन करें।

हरियाणा शतरंज एसोसिएशन (एचसीए) के प्रदेश महासचिव कुलदीप ने बताया कि राष्ट्रीय व अंतरर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में पदक विजेता प्रतिभागी खिलाडियों के 1 जनवरी, 2019 से 31 मार्च, 2020 तक की अवधि की खेल उपलब्ध्यिों के आधार पर नगद पुरस्कार के लिए आवेदन-पत्र आमंत्रित किए गए हैं। पात्र खिलाड़ी/प्रतिभागी 15 अगस्त, 2020 तक संबंधित जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी के कार्यालय में नगद पुरस्कार के लिए आवेदन कर सकते है। नगद पुरस्कार प्राप्त करने के लिए खिलाड़ी की खेल उपलब्धि 1 जनवरी, 2019 से 31 मार्च, 2020 के बीच की होनी चाहिए और आवेदन निर्धारित प्रपत्र में होना चाहिए। आवेदन के साथ खिलाड़ी/प्रतिभागी को खेल उपलब्धियों की सत्यापित प्रतियां भी सलंग्न करनी होगी। खिलाडी/प्रतिभागी हरियाणा का स्थाई निवासी होना चाहिए तथा इसका प्रमाण भी आवेदन के साथ संलग्न होना चाहिए। पात्र खिलाड़ी, प्रतिभागी द्वारा संबंधित अंतर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में भाग लेने के संबंध में दिए गए प्रमाण-पत्रों की फोटो प्रतियां आवेदन पत्र के साथ संलग्न होनी चाहिए। इसी प्रकार, आवेदन पत्र के साथ बैंक खाता, बैंक का आईएफएससी कोड, यूनिक कोड, आधार कार्ड की प्रति, प्रथम श्रेणी मैजिस्ट्रेट से जारी किया हुआ शपथ-पत्र भी संलग्न होना चाहिए।

पांच हजार रूपए की ईनामी राशि दी जायेगी विजेताओं को –
हरियाणा शतरंज एसोसिएशन (एचसीए) के प्रदेश महासचिव कुलदीप ने बताया कि हरियाणा से 750 खिलाडिय़ों ने अपने ऑनलाइन आवेदन किये है। खिलाडिय़ों की लिस्ट पूरी डिटेल के साथ एचसीए की वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इंडियनचेस डॉट ओआरजी पर देखी जा सकती हैं। एचसीए की तरफ से एक टूर्नामेंट लिंक जारी किया गया है। इस ऑनलाइन चैंपियनशिप में देश से हजारों खिलाड़ी भाग लेंगे। इस ऑनलाइन टेक्नोलॉजी से शतरंज विश्व का अग्रणी खेल बनने की ओर तेज गति से अग्रसर है। एचसीए ने चैंपियनशिप के लिए कमेटी गठित की है इसमें पुरोहित शतरंज एकेडमी के अध्यक्ष श्रेयस विवेक पुरोहित एवं गौरी करमरकर को विशेष रूप से शामिल किया गया है। स्पर्धा के टॉप विजेताओं को एचसीए द्वारा ई-सर्टीफिकेट तथा पुरोहित शतरंज एकेडमी के सहयोग से नगद राशि दी जायेगी।

देश के हजारों खिलाडियों के बीच होगे ऑनलाइन शतरंज मुकाबले –
चैंपियनशिप में देश के सभी राज्यों के हजारों खिलाड़ी ऑनलाइन दमखम दिखाएंगे। वल्र्ड चेस फे डरेशन के नियमों पर आधारित इस स्पर्धा के सभी मुकाबले ऑनलाइन होंगे जिनका सीधा प्रसारण डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इंडियनचेस डॉट ओआरजी पर होगा। सभी मुकाबलें 26 जुलाई को खेले जाएगे। प्रत्येक मैच में 3 मिनट व 2 सेकंड का इंक्रीमेंट समय दिया जाएगा।

देश के सभी खिलाडिय़ों का प्रवेश नि:शुल्क –
एचसीए महासचिव कुलदीप ने बताया कि देश के सभी खिलाडिय़ों का प्रवेश नि:शुल्क होगा। महिलाओं व पुरूष प्रतिभागियों की संयुक्त रूप से ऑनलाइन प्रतिस्पर्धाऐं होंगी। इस ऑनलाइन शतरंज स्पर्धा में खिलाड़ी अपनी सुविधा अनुसार देश के कही भी किसी भी कोने में बैठ कर भाग ले सकते है। एचसीए की तरफ से एक टूर्नामेंट लिंक जारी किया गया है। स्पर्धा में शिरकत करने वाले सभी प्रतिभागी खिलाडियों को डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इंडियनचेस डॉट ओआरजी पर जाकर ऑनलाइन टूर्नामेंट लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद अपना नया यूजर नेम व पासवर्ड, ईमेल सबमिट करके अपनी आइडी बनानी होगी।

एचसीए ने आपदा को अवसर में बदला –
कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में सारे खेलों की प्रतियोगिताएं ठप्प पड़ी है। लेकिन इस संकट ने शतरंज के लिये बेहतर अवसर पैदा कर दिया है। एचसीए ने ऑनलाइन टेक्नोलॉजी की बदौलत इस आपदा को अवसर में बदल लिया है। हम सुरक्षित रहते हैं, हम रचनात्मक रहते हैं तथा हम ऑनलाइन शतरंज खेलते हैं इस नारे के साथ लगातार ऑल इंडिया ऑनलाइन शतरंज स्पर्धाएं करवाई जा रही हैं।