Breaking News खेल देश राज्य होम

तीन राष्ट्रीय चयनकर्ताओं के लिए बीसीसीआइ ने मांगे आवेदन, 15 नवंबर है आखिरी तारीख

चयनकर्ता पद के लिए आवेदन करने की अधिकतम आयु सीमा 60 साल और न्यूनतम पात्रता 30 प्रथम श्रेणी मैच है। हालांकि अंतरराष्ट्रीय अनुभव (सात टेस्ट या 10 वनडे अंतरराष्ट्रीय और 20 प्रथम श्रेणी मैचों का संयोजन) वाले आवेदकों को प्राथमिकता दी जाएगी।

नई दिल्ली । भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) ने सीनियर पुरुष चयन समिति में अपना कार्यकाल पूरा करने वाले तीन चयनकर्ताओं की जगह नए चयनकर्ताओं की नियुक्ति के लिए मंगलवार को आवेदन आमंत्रित किए। आवेदन भेजने की समय सीमा 15 नवंबर है। चयनकर्ता पद के लिए आवेदन करने की अधिकतम आयु सीमा 60 साल और न्यूनतम पात्रता 30 प्रथम श्रेणी मैच है। हालांकि अंतरराष्ट्रीय अनुभव (सात टेस्ट या 10 वनडे अंतरराष्ट्रीय और 20 प्रथम श्रेणी मैचों का संयोजन) वाले आवेदकों को प्राथमिकता दी जाएगी। जिन तीन चयनकर्ताओं का कार्यकाल पूरा हो गया है वे देवांग गांधी (पूर्व क्षेत्र), सरनदीप सिंह (उत्तर क्षेत्र) और जतिन परांजपे (पश्चिम क्षेत्र) हैं।

बीसीसीआइ ने आधिकारिक रूप से क्षेत्रीय नीति को खत्म कर दिया है, लेकिन परंपरा रही है कि समान क्षेत्र का व्यक्ति अपने क्षेत्र के व्यक्ति की जगह लेता है। हाल में सुनील जोशी (दक्षिण क्षेत्र) ने एमएसके प्रसाद की जगह ली थी जो पिछली चयन समिति के अध्यक्ष थे। इसी तरह राजस्थान के गगन खोड़ा की जगह इसी साल फरवरी में रेलवे के हरविंदर सिंह को मध्य क्षेत्र से चयनकर्ता बनाया गया था। उम्मीद है कि पिछले चरण के आवेदकों के आवेदन वैध रहेंगे जिसमें मुंबई के अजित अगरकर और दिल्ली के मनिंदर सिंह शामिल हैं।

सीनियर राष्ट्रीय चयन समिति का अध्यक्ष वह व्यक्ति होगा जिसे सबसे अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का अनुभव होगा और ऐसे में मदन लाल की अध्यक्षता वाली क्रिकेट सलाहकार समिति 15 टेस्ट और 69 वनडे अंतरराष्ट्रीय (जोशी का अंतरराष्ट्रीय अनुभव) से अधिक अनुभव वाले किसी व्यक्ति को चुनती है तो वह मुख्य चयनकर्ता होगा। क्रिकेट सलाहकार समिति के अन्य सदस्य आरपी सिंह और सुलक्षणा नाइक हैं। सीनियर चयन समिति भारतीय टीम के अलावा भारत-ए, दलीप ट्रॉफी, देवधर ट्रॉफी, चैलेंजर ट्रॉफी और शेष भारत (ईरानी कप) टीम का चयन करती है। चयनकर्ताओं की मुख्य जिम्मेदारी निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से सर्वश्रेष्ठ संभव टीम के चयन के अलावा राष्ट्रीय टीम के लिए मजबूत बेंच स्ट्रेंथ तैयार करना है।

WhatsApp chat