Breaking News देश राज्य होम

डीह रायबरेली – डीह थाना प्रभारी ने मात्र 24 घंटे के अंदर हत्यारोपियों को किया गिरफ्तार

डीह रायबरेली – डीह थाना प्रभारी ने मात्र 24 घंटे के अंदर हत्यारोपियों को किया गिरफ्तार

अनिल कुमार इंडिया नाऊ 24 रायबरेली

डीह, रायबरेली ।। डीह थाना क्षेत्र के रोखा गांव निवासी अबरार का पुत्र 14 सितंबर को लापता हो गया था।जिसकी तहरीर उसने थाने में दी थी।लापता युवक का 15 सितंबर की रात शव कचौआ तालाब में जलकुंभी के नीचे मिला था।थाना प्रभारी जय प्रकाश यादव ने मामले की जांच पड़ताल शुरू की तो शक की सुई मृतक के मौसेरे भाई की ओर घूमी और जब पुलिस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की तो मृतक के खाते में मौजूद लाखों रुपयो को हड़पने के लिए उसके भाई ने अपने साथी के साथ मिलकर उसे मौत की नींद सुला दिया और शव को तालाब में फेंककर निश्चिंत हो गए।लेकिन पुलिस की कार्यवाही के दौरान दोनों आरोपी आलाकत्ल व लाखों की नगदी के साथ पकड़े गए।

बताते चले कि जिले के डीह थाना क्षेत्र के रोखा निवासी अबरार का पुत्र फरमान कई सालों से सऊदी अरब में काम करता था और इस बीच घर आया था।14 सितंबर को वो घर से बाइक खरीदने के लिए अपने मौसेरे भाई अरबाज के साथ घर से निकला था।लेकिन वंहा पैसे कम पड़ जाने पर अपना एटीएम कार्ड व पासवर्ड बताकर अरबाज को पैसे लेने भेजा।जब अरबाज ने उसके खाते में 20 लाख रुपये देखे तो उसका मन डगमगा गया और उसने उन्हें हड़पने का मन बना लिया।अपने साथी कल्पनाथ के साथ मिलकर उसने शाम को फरमान को बुलाया और उसे नशे में कर उसकी डंडे से जमकर पिटाई कर मौत के घाट उतार दिया और उसके शव को कचौआ तालाब में फेंक दिया।जब रात में फरमान घर नही लौटा तो परिजनों ने थाने में तहरीर दी। थाना प्रभारी जय प्रकाश यादव और उनकी टीम ने तुरंत सुचना तंत्र की सक्रिय करत हुये तलाश करने पर उसका शव तालाब में जलकुंभी के नीचे से मिला। पड़ताल करने पर शक की सुई अरबाज की तरफ घूमी और जब उससे कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।डीह थाना पुलिस ने उसके साथी कल्पनाथ को भी गिरफ्तार कर लिया और दोनों की निशानदेही पर वारदात में प्रयुक्त डंडे के साथ ही दोनों के पास से फरमान के खाते से निकाले गए एक लाख अठहत्तर हजार रुपये व मृतक का एटीएम व पासपोर्ट बरामद कर लिया।

गिरफ्तार करने मे प्रभारी निरीक्षक – जयप्रकाश यादव, उप निरीक्षक – संतोष यादव, इंसाफ अली, आरक्षी – नटवर सिंह, धर्मवीर सिंह, कुंदन यादव, कुलदीप सिंह, सुमित शर्मा