Breaking News देश राज्य होम

जंक्शन मेनहॉल में ढ़ही मिट्टी, गर्दन तक दबा मजदूर

जंक्शन मेनहॉल में ढ़ही मिट्टी, गर्दन तक दबा मजदूर
मजदूरों ने अपनी ही सूझबूझ से साथी की जान बचाई
गहरे खड्डे में मिट्टी ढ़हते ही मजदूरों में मचा हडक़ंप

 

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम। पटौदी सब डिवीजन के हेलीमंडी क्षेत्र में एसटीपी के कार्य सीवरेज लाइन डालने-सीवरेज हॉल बनाने के दौरान नियमित अंतराल पर जानलेवा लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं। करीब दो वर्ष पहले एेसे ही कार्य के दौरान गहरे खड्डे में मिट्टी ढ़हने के कारण मजदूरों की मौत भी हो गई थी, इसके बाद में गहरे खड्डे में गिरे सांड को कड़ी मशक्कत के बाद बचाया जा सका था।  अब ताजा मामला रविवार का है, तब हेलीमंडी आरओबी के नीचे रामपुर चौराहे पर जन स्वास्थ्य एवं अभियात्रिकी विभाग सहित ठेकेदार की गंभीर लापरवाही के कारण एक मजदूर की जान पर बन आई, अचानक गहरे जंक्शन सीवर मेनहॉल में मिट्टी ढ़हने से एक मजदूर गर्दन तक दब गया। मौके पर मौजूद साथी मजदूरों ने बिना देर किये अपनी सूझबूझ से कड़ी मशक्कत के साथ बाहर निकाल जान बचा ली। इस हादसे के बारे में विभाग के जेई को सूचना मिलने पर वह भी घटना स्थल पर पहुंचे। जैसे ही मिट्टी गहरे सीवर जंक्शन मेनहॉल में ढ़ही तो काम कर रहे मजदूरों में हडक़ंप मच गया, इसके साथ ही आसपास के दुकानदार व अन्य लोग भी घटना स्थल के आसपास में जमा होना शुरू हो गए।

सीवर लाइन जोडऩा ही भूल गए
लापरवाही बरतने की हद की सीमा को भी पार कर दिया। जन स्वास्थ्य एवं अभियात्रिकी विभाग सहित ठेकेदार के द्वारा शनिवार को अपनी तरफ से इस गहरे सीवर जंक्शन मेनहॉल सहित सीवर लाइन कनेक्ट करने का काम पूरा करके कार्य स्थल को मिट्टी से आटकर समतल कर दिया गया। इसके बाद अचानक रविवार को ध्यान में आया कि एक साइड में सीवर लाइन को कनेक्ट करना ही भूला दिया गया। आानन फानन में रविवार को जेसीबी के द्वारा फिर से कार्य स्थल पर खोदाई की गई। इसी दौरान कुछ मजदूर करीब 20 फुट गहरे खड्डे में कार्य के लिए जैसे ही अंदर उतरे तो जेसीबी के द्वारा बाहर निकाली गई मिट्टी वापिस मजदूरों पर ढ़ह गई। इसमें एक मजदूर का पूरा धड़ मिट्टी में दब गया और गर्दन ही बाकी बची। यह देख मजदूर परिवार की महिलाओं में रोना पीटना शुरू हो गया। बिना समय गवायें मजदूर को बाहर निकाल जान बचा ली गई।
 
आपस में मारपीट और चले पत्थर
गहरे सीवर जंक्शन मेनहॉल में मिट्टी ढहने की घटना को लेकर काम कर रहे मजदूरों का गुस्सा कथित रूप से जेसीबी आपरेटर-चालक की लापरवाही ठहराते फूट पड़ा। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मजदूरों सहित मौके पर मौजूद अन्य साथियों के बीच में गरमा-गरमी बढ़ते हुए बात मारपीट तक पहुंच गई। बताया गया है कि मिट्टी ढहने के मामले को लेकर कुछ मजदूर पत्थर लेकर मारने के लिए दौड़ पड़े। पत्थर फैंक कर मारे भी गए, लेकिन सौभाग्य से किसी को लगे नहीं। इस दौरान मौके पर पहुंचे विभाग के जेई भी दाव लगते ही घटना स्थल से गायब हो लिये।