Breaking News देश राज्य होम

ग्रामपंचायत निजामपुर में मनरेगा के बाद अंत्योदय कार्ड में बड़ा भ्रष्टाचार

ग्रामपंचायत_निजामपुर में मनरेगा के बाद अंत्योदय कार्ड में बड़ा भ्रष्टाचार

 

राजनीतिक रसूख के चलते जिलाधिकारी कार्यवाही के नाम पर मौन

ब्यूरो चीफ हरदोई! अभी पूर्व में बावन ब्लॉक की *ग्रामपंचायत निजामपुर* मनरेगा में हुए भ्रष्टाचार के कारण सुर्खियों में रही है । प्रकरण की शिकायत भी जिलाधिकारी से 14 जून 2020 को ग्रामनिवासी सतीश वर्मा ने की थी। लेकिन राजनीतिक रसूख के चलते अभी तक कोई ठोस कार्यवाही नही हुई है। प्रधान का रसूख इतना है l कि मुख्यमंत्री पोर्टल पर दर्ज शिकायत पर जिम्मेदारों ने फर्जी आख्या लगा कर शिकायत को निस्तारित कर दिया गया है। इन्ही आख्याओं के दम पर मंडल में पहला व प्रदेश में तीसरा स्थान शिकायत निस्तारण में जनपद हरदोई ने पाया है।
*क्या_है_प्रकरण*——?
इस ग्राम पंचायत में अंत्योदय कार्ड में भी जम कर भ्रष्टाचार हुआ है इस योजना के अंतर्गत ग्रामप्रधान के परिवार के ,सगे संबंधियों,समधी, भांजे,बहन,व अविवाहित को विवाहित दिखा कर,नौकरीपेशा करने वालो के तथा पता नही कितने अपात्रो के अन्त्योदय योजना के अंतर्गत कार्ड बनवा दिए गए और लाभ दिया जा रहा है।
#ग्राम_प्रधान_के_परिवार_वालो_के_बने_अन्त्योदय #कार्ड*
(1)ग्राम प्रधान नाजिम के सगे बड़े भाई साजिद की पत्नी जरीना के नाम अन्त्योदय कार्ड बना है जिसकी कार्ड संख्या 215520895060 है
(2)#ग्रामप्रधान_का_सगा_भतीजा जाबिर की पत्नी उम्मे कुलसुम के नाम अन्त्योदय कार्ड बना है जिसकी कार्ड संख्या 215520946586 है कार्डधारक स्वयं नवीहुसैन इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या है व इनका पति अस्पताल में प्रैक्टिस कर रहा है।
(3)#ग्रामप्रधानकी_सगी_बड़ी_बहन
सलमा पुत्री नवीहुसैन पत्नी जहीर भी अन्त्योदय कार्ड धारक है जिसकी संख्या 215520895077 है।
(4)ग्रामप्रधान का सगा भांजा फुरकान पुत्र जहीर भी अन्त्योदय 215520335575 कार्ड धारक है।
(5)#प्रधान_के_सगे_भांजे की पत्नी रेशम पत्नी इमरान पुत्र जहीर का भी अंत्योदय कार्ड बना है जिसका क्रमांक 215520895132 है।
(6)#प्रधान_के_सगे_भांजे रिजवान पुत्र जहीर भी अंत्योदय योजना का लाभ ले रहा है इसका कार्ड क्रमांक 215520962841 है।
(7)#प्रधान_के_समधी भी इस योजना का लाभ ले रहे है समधी ने अपनी पत्नी के नाम कार्ड संख्या 215520874329 सबीना पत्नी बब्बन के नाम कार्ड बना है।
(8)एक ही महिला कल्लो पत्नी नसीर के दो अंत्योदय कार्ड बने है जिनका क्रमांक क्रमश 215520335520 व 215520923655 है।
(9)अविवाहित जानमोहम्मद को शादीशुदा दिखा कर अंत्योदय कार्ड बनवा दिया है साफिया पत्नी जान मोहम्मद के नाम कार्ड संख्या 215520335497 बनवा दिया।यह जान मोहम्मद प्रधान का रिश्तेदार है
(10)इस योजना के अंतर्गत बावन निवासी मुफ़ीस पुत्र रईस का कार्ड बन गया जिसका क्रमांक 215520872451 है सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुफ़ीस नाजिम प्रधान के यहाँ नौकरी करता है।
(11)रजनी पत्नी कमल किशोर व सरिता पत्नी अमित किशोर दोनों कार्ड धारक #पूर्व_प्रधान_की_पुत्रवधू_है इन लोगो को भी इस योजना के अंतर्गत कार्ड बनवाया गया है इनकी कार्ड संख्या क्रमशः 215520335551व 215520335544 है।आप लोगो के संज्ञान में लाना है कि दोनों कार्ड धारक रजनी व सरिता आंगनवाड़ी में कार्यरत है।
(12) इस योजना के अंतर्गत बीना पत्नी अशोक कार्ड संख्या 215520895062 बना है इस कार्ड में सदस्यों के साथ हेराफेरी की गई है। इस कार्ड में अशोक पुत्र रामलाल की जगह पर अशोक पुत्र रामशंकर को योजना का लाभ दिया जा रहा है।
#बड़ा_सवाल*
बड़ा सवाल यह है कि जब सभी सबूत व आरोप शीशे की तरह साफ है तो जिलाधिकारी को कार्यवाही करने में देरी क्यो हो रही है।और इस पूरे भ्रष्टाचार में पूर्तिविभाग की संलिप्तता से इंकार नही किया जा सकता है।चुकी ग्रामप्रधान के राजनीतिक संबंध अच्छे है इस कारण जिलाधिकारी महोदय का दवाब में आना लाजमी है शायद राजनीतिक दवाब होने के कारण ही अब तक न मनरेगा के भ्रष्टाचार के प्रकरण में न ही अन्त्योदय में हुए भ्रष्टाचार के प्रकरण में कोई ठोस कार्यवाही नही की जा सकी है जब कि शिकायतकर्ता सतीश वर्मा को शिकायत किये हुए लगभग दो महीने पूरे होने जा रहे है।अब देखना यह है कि जिलाधिकारी कार्यवाही कब करते है