Breaking News देश राज्य होम

गुरूग्राम-बादशाहपुर विधायकों ने की निगम अधिकारियों के साथ बैठक

गुरूग्राम-बादशाहपुर विधायकों ने की निगम अधिकारियों के साथ बैठक
–    प्रोपर्टी टैक्स, वाटर एवं सीवरेज चार्जिज, सीवरेज सफाई, बिल्डिंग प्लान
स्वीकृति, सफाई व्यवस्था, आयुध डिपो के प्रतिबंधित दायरे में सुविधाएं  देने, बरसात में जलनिकासी के पर्याप्त प्रबंध करने, अनियमित कॉलोनियों
को नियमित करने, बल्क वेस्ट जनरेटरों को कंपोस्टिंग करने के प्रति
इनफोर्स करने सहित अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर हुई चर्चा

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरूग्राम । गुरूग्राम के विधायक सुधीर सिंगला तथा बादशाहपुर के विधायक राकेश दौलताबाद ने स्थानीय लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह में नगर निगम अधिकारियों के साथ बैठक की तथा कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर अपने सुझाव दिए।
बैठक में पहुंचने पर नगर निगम गुरूग्राम के अतिरिक्त निगमायुक्त मुनीष शर्मा तथा एडीशनल म्यूनिसिपल कमिशनर वाईएस गुप्ता ने दोनों विधायकों का स्वागत किया। श्री गुप्ता ने प्रोपर्टी टैक्स के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि नगर निगम सीमा में पूर्व सर्वे के आधार पर 392435 यूनिट पंजीकृत हैं। चालू वित्त वर्ष में 210 करोड़ रूपए के प्रोपर्टी टैक्स की वसूली का लक्ष्य रखा गया है तथा अभी तक 114 करोड़ रूपए वसूल किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि फिलहाल प्रोपर्टी टैक्स के लिए नया सर्वे चल रहा है। यह सर्वे पूरी तरह से ऑनलाईन है।
वाटर एवं सीवरेज शुल्क पर बात करते हुए बताया गया कि नगर निगम गुरूग्राम द्वारा हाल ही में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के 1 से लेकर 57 तक के सैक्टरों में पानी और सीवरेज के शुल्क कलैक्शन का कार्य शुरू किया गया है। इससे नगर निगम को सालाना लगभग 10 करोड़ रूपए का राजस्व प्राप्त होगा। यहां गुरूग्राम के विधायक सुधीर सिंगला ने सुझाव दिया कि कॉलोनाईजर एरिया, जो निगम को ट्रांसफर हो गए हैं, उनमें भी इस प्रकार की व्यवस्था शुरू करें, ताकि नागरिकों को किसी प्रकार की समस्या ना हो।
सीवरेज सिस्टम के बारे में बताया गया कि नगर निगम गुरूग्राम द्वारा सीवर लाईनों की सफाई के लिए सुपर सकर एवं बैकेट मशीनें लगाई गई हैं तथा मेनहोल की सफाई मैनुअल की बजाए रोबोटिक  की जा रही है। फिलहाल इस कार्य के लिए एक रोबोट पायलेट आधार पर कार्य कर रहा है, जिनकी संख्या बढ़ाने की दिशा में कार्य चल रहा है। बताया गया कि जोनवाईज एक-एक रोबोट मशीन अर्थात 4 रोबोट मशीनों की व्यवस्था करने का प्रयास है।
बिल्डिंग प्लान के बारे में बताया गया कि नगर निगम सीमा में स्थित भवनों के नक्शे ऑनलाईन पास करने की व्यवस्था है और इसके लिए सरकार द्वारा अधिकतम 45 दिन की समयसीमा निर्धारित की हुई है। सफाई व्यवस्था के बारे में बताया गया कि रोड़ एवं स्ट्रीट सफाई का कार्य नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा किया जाता है, जबकि घरों से कचरा एकत्रित करने, ट्रांसपोर्ट करने तथा उसका डिस्पोजल करने की जिम्मेदारी इकोग्रीन एनर्जी को सौंपी गई है। आयुध डिपो के प्रतिबंधित क्षेत्र में सुविधाएं मुहैया करवाने के बारे में कहा गया कि फिलहाल पब्लिक स्टैंड पोस्ट के माध्यम से पेयजल आपूर्ति का कार्य किया जा रहा है। विधायकों ने कहा कि इस क्षेत्र में सफाई व्यवस्था, सीवरेज क्लीनिंग आदि का कार्य भी नगर निगम द्वारा दुरूस्त किया जाए। बरसात के मौसम में जलभराव की समस्या से निपटने के लिए एक प्लान बनाया गया है, जिसमें नोडल बॉडी जीएमडीए है। विधायकों ने कहा कि यह सुनिश्चित करें कि जिन स्थानों पर जलभराव होता है, वहां पर रेन वाटर हारवैस्टिंग लगाने की व्यवस्था हो सकती है या नहीं। अगर ऐसा हो सकता है, तो स्थानों का चयन करके ऐसी व्यवस्था करवाएं। इसके साथ ही यह भी बताया गया कि ठोस कचरा प्रबंधन नियम-2016 के तहत बल्क वेस्ट जनरेटरों को उनके यहां उत्पन्न होने वाले कचरे का समाधान करना अनिवार्य है। नगर निगम द्वारा बल्क वेस्ट जनरेटरों को नोटिस जारी किए गए हैं तथा काफी जगह पर कंपोस्टिंग की व्यवस्था करवाई गई है।
अधिकारियों को संबोधित करते हुए गुरूग्राम के विधायक सुधीर सिंगला तथा बादशाहपुर के विधायक राकेश दौलताबाद ने कहा कि हमें गुरूग्राम को स्वच्छ, सुंदर और बेहतरीन शहर बनाना है। विशेष रूप से बागवानी में काफी कार्य करने की आवश्यकता है। अधिकारी पूरे शहर के लिए योजना तैयार करें। अगर किसी मामले में उनके सहयोग की आवश्यकता पड़ती है, तो उन्हें बताएं। सरकार के स्तर पर हरसंभव सहायता वे करवाएंगे। विधायक राकेश दौलताबाद ने बताया कि वे जल्द ही सरकारी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को इंसैंटिव देने वाला बिल पेश करेंगे, ताकि नीजि संस्थानों की तरह सरकारी संस्थानों में भी बेहतर कार्य करने वालों को इंसैंटिव मिल सके।
बैठक में अतिरिक्त निगमायुक्त मुनीष शर्मा, एडीशनल म्यूनिसिपल कमिशनर वाईएस गुप्ता, पूर्व डिप्टी मेयर परमिन्द्र कटारिया, संयुक्त निगमायुक्त मुकेश सोलंकी, गौरव अंतिल, हरीओम अत्री एवं संजीव सिंगला, चीफ इंजीनियर एनडी वशिष्ठ, एसई सत्यवान शर्मा, सीटीपी आरके सिंह, एसटीपी संजीव मान सहित नगर निगम के कार्यकारी अभियंता एवं सहायक अभियंता उपस्थित थे।