Breaking News देश राज्य होम

गाजीपुर – पहाड़पुर व भीमापार केंद्र बंद होने से परेशानी

भीमापार (गाजीपुर) : भीमापार व पहाड़पुर में इस बार धान क्रय केंद्र न खुलने से वहां के किसान परेशान हैं। वहां के किसानों को सैदपुर धान क्रय केंद्र से संबद्ध कर दिया गया है। इससे कर्मचारियों के साथ किसानों की भी परेशानी बढ़ी है। दूरी ज्यादा होने के कारण उनका अतिरिक्त समय व धन बर्बाद हो रहा है। भीमापार के किसान अखिलेश सिंह, मंगारी के जगदीश सिंह आदि का कहना है कि भीमापार में धान क्रय केंद्र होने से सहूलियत रहती थी। अब सैदपुर जाने में काफी दूरी पड़ रही है। यही कहना पहाड़पुर क्षेत्र के भी किसानों का है। इधर, क्षेत्र बड़ा होने से लक्ष्य बढ़ा दिया गया है जिससे कर्मचारी भी परेशान हैं।

3500 क्विटल धान की हुई खरीद

: सैदपुर धान क्रय केंद्रों पर किसान आनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर बुलाए गए तिथि पर पहुंच रहे हैं जिसके चलते उन्हें परेशानी नहीं हो रही है। सैदपुर में भितरी मोड़ पर स्थित विपणन केंद्र पर शुक्रवार को पांच किसानों ने पहुंचकर अपना धान बिक्री किया। धान को बोरों में भरकर किसान धान क्रय केंद्र पर पहुंच रहे हैं। यहां बोरा, रस्सी, तराजू आदि के साथ गोदाम की भी व्यवस्था है। मजदूरी व कर्मचारी भी दिन भर रहकर शासन से मिले लक्ष्य को पूरा करने में जुटे हैं। शासन द्वारा निर्धारित 1867 रुपये प्रति क्विटल मूल्य पर किसान यहां बिक्री करने के लिए आ रहे हैं। विपणन केंद्र पर 30 हजार क्विटल धान खरीद का लक्ष्य है, लेकिन अब तक मात्र 3500 क्विटल धान की खरीद हो पाई है। कुल 93 किसानों ने अब तक यहां पर अपना धान बेचा है। विपणन केंद्र प्रभारी आशुतोष चौरसिया ने बताया कि किसी प्रकार की परेशानी नहीं है। प्रतिदिन किसान अपना धान बेचने के लिए आ रहे हैं। किसानों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा है।