Breaking News देश राज्य होम

ऐड एट एक्शन के ‘आईड्रीम लर्निंग ऐप’ से गुरुग्राम के ग्रामीण क्षेत्रों के हजारों छात्र होंगे लाभान्वित

ऐड एट एक्शन के आईड्रीम लर्निंग ऐप से गुरुग्राम के ग्रामीण क्षेत्रों के हजारों छात्र होंगे लाभान्वित

  • 12वीं तक के ग्रामीण छात्रों को मुफ्त शिक्षा मुहैया कराने के लिए आईड्रीम एजुकेशन के साथ मिलकर लाँच किया ऐप
  • ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले बच्चों के सीखने और समग्र विकास के लिए मुफ्त और निर्बाध पहुंच प्रदान करना है आइड्रीम लर्निंग ऐप का लक्ष्य
रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

 

गुरुग्राम, : नया शैक्षणिक सत्र शुरू होने वाला है, लेकिन कोविड-19 संक्रमण से बचाव के मद्देनजर लगे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के खत्म होने का अभी आसार नहीं दिख रहा है। ऐसे में बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो इसके लिए गुरुग्राम के स्कूल ने  वर्चुअल क्‍लासेज और ऑनलाइन पढ़ाई शुरू कर दिया है। दूसरी ओर गुरुग्राम के ग्रामीण क्षेत्रों के हजारों बच्चे अभी ऑनलाइन शिक्षा पद्धति से नहीं जुड़ पाए हैं। ऐसे बच्चों के लिए ऐड एट एक्शन ने ‘आईड्रीम लर्निंग ऐप’ लाँच किया है। आईड्रीम एजुकेशन के साथ मिलकर लाँच किए गए इस ऐप का लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले बच्चों के सीखने और समग्र विकास के लिए मुफ्त और निर्बाध पहुंच प्रदान करना है। 12वीं कक्षा तक के ग्रामीण छात्रों को मुफ्त शिक्षा मुहैया कराने वाले इस ऐप का लक्ष्य पहले एक महीने में नौ शहरों में 10,000 छात्रों तक सेवाएं पहुंचाना है। इसके बाद, शहरी, उप-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चों तक पहुंचने के लिए इसका विस्तार किया जाएगा। लॉकडाउन के कारण स्कूल बंद होने से शैक्षणिक गतिविधियों को बरकरार रखने के लिए डिजिटल शिक्षा ही एकमात्र विकल्प रह गया है। ऐसे में ऐड एट एक्शन के इस पहल का बड़ी संख्या में विद्यार्थियों को फायदा मिलेगा।

ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकांश बच्चे मातृभाषा में ही अपनी शिक्षा शुरू करते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए ऐप 9 भाषाओं- हिंदी, अंग्रेजी, तेलुगु, तमिल, कन्नड़, मराठी, गुजराती, बंगाली और उड़िया में शिक्षण सामाग्री प्रदान करता है। एप्लिकेशन पर कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी विषयों से संबंधित कंटेंट मौजूद है। कंटेंट वास्तविक जीवन से जुड़े एनिमेटेड वीडियो लेसन, फ्री एक्टिविटी व प्रोजेक्ट मेकिंग, लाइफ स्किल्स और डिजिटल बुक लाइब्रेरी जैसे प्रारूपों में मौजूद है।

पहल को लेकर ऐड एट एक्शन इंटरनेशनल के प्रोग्राम डायरेक्टर (इंटेरनेशनल) श्री रवि प्रताप सिंह ने कहा कि, “विभिन्न विशेषताओं वाले iDream Learning App के कारण कोविड- 19 लॉकडाउन के दौरान और इससे पूर्व भी देशभर में ऐड एट एक्शन प्रोजेक्ट स्थालों पर सुविधाओं से वंचित बच्चों के लिए शिक्षा सुगम हुआ है। विभिन्न भाषाओं में उपलब्ध सामग्री और सॉफ्ट-स्किल्स से संबंधित वीडियो जैसी सुविधाएँ इसकी विशेषता है। वर्तमान जरूरत और सुविधा के लिहाज से देखें तो iDream Learning App भारत ही नहीं दुनिया भर के स्कूली बच्चों के लिए एक उपयुक्त ऐप है।“

यह लाँच कार्यक्रम ‘इंटेरनेशनल गर्ल्स इन आईसीटी डे’ के दिन आयोजित किया गया, जिसका उद्देश्य महिलाओं को सूचना और प्रौद्योगिकी क्षेत्र में करियर चुनने के लिए सशक्त और प्रेरित करना है। सूचना संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) की पहचान शिक्षा के एक महत्वपूर्ण अंग के रूप में है। हालांकि, ग्रामीण क्षेत्रों के हजारों छात्र अभी भी इस उपयोगी साधन से वंचित हैं। ऐसे में यह ऐप शैक्षणिक/डिजिटल दूरी को कम करने के साथ साथ सामाजिक दूरी को भी कम करेगा।

वहीं, आईड्रीम एजुकेशन के डायरेक्टर श्री पुनीत गोयल ने कहा कि, “iDream Learning App के जरिए भाषा, स्थान, और सामाजिक/आर्थिक स्थिति से परे हर बच्चे तक डिजिटल लर्निंग आसानी, सुखद और निरंतरता से पहुँच सकेगा। यह वर्तमान समय की मांग है कि हम देश के सुदूर क्षेत्र के छात्रों को डिजिटल एजुकेशन से जोड़ें।“

ऐड एट एक्शन वर्तमान में भारत और नेपाल के 1766 स्कूलों में 118,000 से अधिक स्कूली बच्चों और 4260 शिक्षकों को अपनी शैक्षिक परियोजनाओं के माध्यम से, सीधे या स्थानीय एनजीओ की मदद से समर्थन कर रहा है। इनमें से अधिकांश स्कूल दूरदराज के क्षेत्रों में स्थित हैं, जिनमें सीखने के संसाधनों और आवश्यक बुनियादी ढांचे का अभाव है। ऐड एट एक्शन इन स्कूलों में लड़कियों के नामांकन और उन्हें शिक्षा से जोड़े रखने के लिए प्रतिबद्ध है।